योगी सरकार पर अखिलेश यादव का वार, कानून-व्यवस्था पर उठाया सवाल !

लखनऊ : यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री व सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मौजूद प्रदेश सरकार पर कई गंभीर आरोप लगाये हैं। उनका कहना है कि भाजपा कानून-व्यवस्था को मुद्दा बनाकर सत्ता तक पहुंची और इस सरकार में कानून-व्यवस्था बेहद ही खराब है।
गुरुवार की दोपहर 12 बजे मीडिया को संबोधित करते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा तो कानून-व्यवस्था को दुरुस्त करने की बात कहकर सत्ता पर काबिज हुई है लेकिन योगी आदित्यनाथ की सरकार ने बेहद निराश किया है।

अब तो प्रदेश में अपराधी बेखौफ हैं। यह लोग भगवा आगौंछा लपेट लेने के बाद पुलिस के इकबाल को लगातार चुनौती दे रहे हैं। थानाध्यक्ष के साथ पुलिसकर्मी पीटे जा रहे हैं। एसपी के घर के अंदर घुसकर हमला किया जा रहा है। अखिलेश यादव ने कहा कि प्रदेश सरकार ने भू-माफिया पर एक्शन लेने की बात की थी लेकिन अब तो सभी भूमाफिया भारतीय जनता पार्टी में जले गए हैं। सुना है आने वाले समय में कुछ तो मंत्री बनने जा रहे हैं।

अब इनके खिलाफ कैसे कार्रवाई संभव है। योगी आदित्यनाथ सरकार हर मोर्चे पर फेल हो रही है। मुख्यमंत्री प्रदेश का दौरा करते रहते हैए लेकिन अफसर मस्त ही रहते हैं। अखिलेश यादव ने कहा कि प्रदेश सरकार बलिया की घटना पर कह रही है कि हमने कार्यवाई की लेकिन एक बेटी की जान चली गई। स्कूल जा रही छात्रा को चाकुओं से गोद दिया गया। एसपी और अन्य पुलिसकर्मी हाथ पर हाथ दरे बैठे रहे। बलिया में जो कुछ हुआ वो बेहद गंभीर घटना है।

प्रदेश की कानून व्यवस्था की स्थिति किसी से छिपी नहीं है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री हम पर आरोप लग रहे थे कि थाना हम चलाते थे लेकिन अब हम पूछ रहे हैं कि थाना कौन चला रहा है। अब तो पुलिस वसूली कर रही है। प्रदेश में 100 नंबर की व्यवस्था हमने दी थी सबने तारीफ की। इस सरकार ने इस व्यवस्था का सत्यानाश कर दिया। उन्होंने कहा कि योगी आदित्यनाथ सरकार पुलिस की भर्ती रोके हुए है।

सब इंस्पेक्टर परीक्षा का तो पेपर ही आउट हो गया। पुलिस का सिर्फ एक काम रह गया है। विपक्षी दल के नेताओं पर दबाव बनाने का। औरैया, मैनपुरी, कन्नौज, आगरा में समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं के साथ अन्याय हो रहा है। अखिलेश यादव ने अपनी प्रेस वार्ता के दौरान मौजूद भाजपा सरकार को पूरी तरह नाकाम बताया है। उनका कहना है कि मौजूद प्रदेश सरकार हर मोर्च पर नाकाम रही है और नाकामी छुपाने के लिए ठीकरा दूसरों के सिर पर फोड़ा जा रहा है।

You May Also Like

English News