अभी-अभी: भारतीय टीम के इस खिलाड़ी ने पूर्व कप्तान धोनी को लेकर दिया ये बड़ा बयान 

गौतम गंभीर और धोनी को भारतीय क्रिकेट की दुनिया में कट्टर प्रतिद्वंद्वी माना जाता है। हालांकि दोनों ने मिलकर भारतीय टीम को विश्वचैंपियन बनाने में अहम भूमिका अदा की थी। ऐसे में टीम इंडिया से लंबे समय से बाहर चल रहे गौतम गंभीर ने टीम इंडिया के 2019 विश्वकप की टीम के बारे में अपने विचार जाहिर किए हैं। 

अभी-अभी: भारतीय टीम के इस खिलाड़ी ने पूर्व कप्तान धोनी को लेकर दिया ये बड़ा बयान 

गंभीर का मानना है कि जो खिलाड़ी 2019 के विश्वकप के लिए टीम इंडिया में शामिल होना चाहते है उसे लगातार बेहतरीन प्रदर्शनक करना होगा। ऐसे में अधिकांश लोगों के नजर टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी पर लगीं हुई हैं। 35 वर्षीय धोनी विकेट के पीछे तो चुस्त दुरुस्त दिख रहे हैं लेकिन उनके बल्ले में पहले जैसी चमक अब दिखाई नहीं देती। 

अभी-अभी: रेल हादसे के मामले में एफआईआर दर्ज, राहत बचाव कार्य जारी!

धोनी के बार में गौतम गंभीर ने ईएसपीएन क्रिकइन्फो से बात करते हुए कहा, 2019 के विश्वकप में टीम इंडिया में बने रहने का धोनी के पास केवल एक रास्ता है कि वो लगातार अच्छा प्रदर्शन करते रहें। यही बात धोनी के अतिरिक्त मनीष पांडे और अन्य खिलाड़ियों पर लागू होती है क्योंकि टीम इंडिया में जगह हासिल करने के लिए युवा और प्रतिभाशाली खिलाड़ियों की कतार लगी है। 

गंभीर ने दिनेश कार्तिक के साथ चयनकर्ताओं द्वारा किए जा रहे दुर्व्यवहार पर भी सवाल उठाया। गंभीर ने कहा, मुझे लगता है कि दिनेश कार्तिक का टीम में न होना एक बड़ा नुक्सान है। उन्हें ऐसे तो बहुत मौके नहीं मिले हैं लेकिन जब कभी उनके हाथ मौका लगा उन्होंने अच्छा प्रदर्शन किया। उन्हें टीम में एक वैकल्पिक विकेट कीपर के रूप में जगह मिलनी चाहिए। 

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने हाल ही में कहा कि हमने विश्वकप के लिए तैयारियां शुरू कर दी है। उन्होंने ये भी कहा था कि टीम में हर खिलाड़ी की एक विशेष भूमिका होगी। ऐसा करने से भविष्य के लिए एक कोर टीम तैयार होगी। इसी वजह से केएल राहुल को मध्यक्रम में जगह मिली है। ऐसा इसलिए है ताकि टीम इंडिया के मध्यक्रम में मजबूत खिलाड़ियों को शामिल किया जा सके। 

धोनी फिलहाल टीम इंडिया का हिस्सा है लेकिन ऋषभ पंत और दिनेश कार्तिक जैसे खिलाड़ी अपने प्रदर्शन से उन्हें चुनौती दे रहे हैं। धोनी ने भी टीम इंडिया की जरूरत के अनुरूप अपने बल्लेबाजी क्रम और खेल के तरीके में बदलाव कर लिया है। ऐसे में युवाओं को टक्कर देने के लिए उन्हें अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते रहना होगा। इसके लिए मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद भी धोनी को अल्टीमेटम दे चुके हैं। 

 

 

You May Also Like

English News