दांबुला में शिखर धवन के आक्रामक शतक से टीम इंडिया ने दर्ज की 9 विकेट से जीत

दांबुला में टीम इंडिया ने रविवार को पहले वन डे में श्रीलंका को 9 विकेट से मात देकर सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल कर ली है। सलामी बल्लेबाज शिखर धवन ने कमाल की बल्लेबाजी करते हुए 90 गेंदों में नाबाद 132 रन बनाए। कप्तान विराट कोहली ने 70 गेंदों में नाबाद 82 रनों की पारी खेली। शिखर धवन और विराट कोहली ने श्रीलंका के गेंदबाजों की जमकर ठुकाई की और महज 28.5 ओवर में एक विकेट खोकर 220 रन बनाकर मैच आसानी से जीत लिया।  

दांबुला में शिखर धवन के आक्रामक शतक से टीम इंडिया ने दर्ज की 9 विकेट से जीत

श्रीलंका के 216 रनों के जवाब में भारतीय पारी की शुरुआत करने उतरे सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा 4 रन बनाकर अजीबोगरीब ढंग से रन आउट हो गए। इसके बाद शिखर धवन और विराट कोहली ने श्रीलंकाई गेंदबाजों की जमकर खबर ली। शिखर धवन ने ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए महज 71 गेंदों में 100 रन बना दिए। आकर्षक बल्लेबाजी की वजह से शिखर धवन को मैन ऑफ द मैच घोषित किया गया। 
अभी-अभी: रेल हादसे के मामले में एफआईआर दर्ज, राहत बचाव कार्य जारी!
इससे पहले पांच वन डे मैचों की सीरीज के पहले मैच में दांबुला में टीम इंडिया की धारदार गेंदबाजी के सामने श्रीलंका 216 रन पर ऑल अाउट हो गई। जसप्रीत बुमराह ने विश्वा फर्नांडों को बोल्ड कर श्रीलंका की पारी का अंत किया। एंजेला मैथ्यूज 36 रन पर नाबाद रहे। टीम इंडिया की ओर से अक्षर पटेल ने बेहतरीन गेंदबाजी की। अक्षर पटेल को 3 विकेट मिले। जबकि जाधव, चहल और बुमराह ने दो-दो विकेट लिए। विराट कोहली ने एक खिलाड़ी को रन आउट किया।

टॉस हारकर पहले बल्‍लेबाजी करने उतरी श्रीलंका के ओपनरों  ने अपनी टीम को बेहतरीन शुरुआत दिलाई लेकिन उनके आउट होने के बाद श्रीलंका का मध्यमक्रम लड़खड़ा गया। एक के बाद एक उनके विकेट गिरते रहे। ओपनरों को छोड़कर श्रीलंका के अन्य बल्लेबाजों ने पूरे विश्वास के सा‌थ बैंटिंग नहीं की। इसी का नतीजा रहा कि भारतीय गेंदबाजों ने शानदार गेंदबाजी करते हुए श्रीलंका को 43.2 ओवरों में ऑल आउट कर दिया। 

अच्छी शुरुआत के बाद लड़खड़ाया श्रीलंकाई मध्यक्रम

श्रीलंका के धनुष्का गुणतिलका 35 रन बनाकर युजवेंद्र चहल की गेंद पर विराट कोहली के हाथों पहले विकेट के रूप में लपके गए। निरोशन डिकवेला को 64 रन के व्यक्तिगत स्कोर पर केदार जाधव ने पगबाधा आउट किया। इसके बाद कुशल मेंडिस को 36 रन पर अक्षर पटेल ने बोल्ड कर दिया। कप्तान उपुल थरंगा को 13 रन पर केदार जाधव ने सीमा रेखा के पास शिखर धवन के हाथों कैच कराया। चमारा कपूगेदरा को विराट कोहली ने शानदार तरीके से रन आउट किया। हसरंगा को अक्षर पटेल ने केदार जाधव के हाथों कैच कराया।

थिसारा परेरा को जसप्रीत बुमराह ने बोल्ड किया। परेरा खाता भी नहीं खोल सके। संदकन को 5 रन पर अक्षर पटेल ने पगबाधा आउट किया। इसके बाद मलिंगा ने एक सिक्स मारा लेकिन वह अपनी पारी आगे नहीं बढ़ा पाए। उन्हें 8 रन पर चहल की गेंद पर धोनी ने स्टंप किया।

श्रीलंका का पहला विकेट 74 रन पर गिरा

श्रीलंका के दोनों ओपनरों ने श्रीलंका को बेहतरीन शुरुआत दिलाई थी। श्रीलंका का पहला विकेट 74 रन पर गिरा। इसके बाद डिकवेला और कुशल मेंडिस के बीच 65 रनों की साझेदारी हुई। लेकिन 139 के स्कोर पर डिकवेला के आउट होने के बाद श्रीलंका की पारी में धड़ाधड़ विकेट गिरते गए। श्रीलंका के मध्यमक्रम के बल्लेबाजों को भारतीय गेंदबाजों ने मैच के अंत तक कोई मौका नहीं दिया। श्रीलंका की ओर से डिकवेला ने सबसे ज्यादा 64 रन बनाए। कुशल मेंडिस और एंजेला मैथ्यूज ने 36-36 रन बनाए।

विराट दांबुला में भी एक नई टीम के साथ उतरे 

टीम इंडिया श्रीलंका के खिलाफ पांच मैचों की वन-डे सीरीज में टेस्ट के समान ही अपनी जीत की लय बरकरार रखने के इरादे से उतरी। टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने दांबुला में सीरीज के पहले वन डे में टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। टीम इंडिया में केएल राहुल को मौका दिया गया। केदार जाधव को भी टीम में रखा गया। कुलदीप यादव को मौका नहीं मिला। उनकी जगह अक्षर पटेल को शामिल किया गया।  

विराट ने हमेशा टीम में बदलाव पर जोर दिया है। लिहाजा पहले वन डे में भी वह एक नई टीम के साथ उतरे। 

विश्व कप की संभावित टीम से पहले मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद पहले ही कह चुके हैं कि इंग्लैंड में 2019 में होने वाले विश्व कप के मद्देनजर खिलाड़ियों का प्रदर्शन और फिटनेस ही पैमाना रहेगा। इसे देखते हुए खिलाड़ियों के दावे और अपनी रणनीति, विकल्पों को आजमाने के लिए कई तरह के प्रयोग किए जा सकते हैं।

दांबुला में भारत ने अपने रिकॉर्ड को सुधारा

वहीं श्रीलंका ने चैंपियंस ट्रॉफी 2017 के मैच में भारत को हराया था और वो उसी तरह का प्रदर्शन दांबुला में नहीं कर पाया। मेजबान टीम को 2019 विश्व कप में अपने आप क्वालीफाई करने के लिए सीरीज में कम से कम दो वनडे जीतने होंगे। यदि भारत के खिलाफ वह ऐसा कर पाती है तो उसके 90 अंक हो जाएंगे। ऐसे में वेस्टइंडीज उनसे ऊपर नहीं जा सकेगा, भले ही वह 30 सितंबर की समयसीमा से पहले आयरलैंड और इंग्लैंड के खिलाफ सभी छह मैच जीत जाए।

भारत भले ही जबर्दस्त फॉर्म में हो लेकिन दांबुला का अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम भाग्यशाली नहीं रहा था। भारत और श्रीलंका के बीच यहां 11 वनडे मैच खेले गए। इनमें से टीम इंडिया को केवल 4 मैचों में ही जीत मिली थी। हालांकि रविवार को यहां श्रीलंका को हराकर भारत ने अपने रिकॉर्ड में थोड़ा सुधार कर लिया। 

You May Also Like

English News