नवी मुंबई में कुत्‍तो का रंग हो रहा हैं नीला, इसका राज छिपा है एक नदी में  

मुंबई में घूम रहे रंगे कुत्‍ते: आपने रंगा सियार की कहानी सुनी होगी। लेकिन इस समय मुंबई वाले रंगे कुत्‍ते को लेकर आपस में चर्चा कर रहे हैं। नवी मुंबई में कुत्‍तों के नीले होने की घटना ने सभी को हैरान कर दिया है। यहां पर गली-गली में नीले रंग के कुत्‍ते टहल रहे हैं। हर कोई इसकी वजह जानना चाहता है। मामला महाराष्‍ट्र पॉल्‍यूशन कंट्रोल बोर्ड (एमपीसीबी) तक पहुंच गया है। यहां की स्‍थानीय एनीमल प्रोटेक्‍शन सेल ने इसकी शिकायत दर्ज करा दी है।

नवी मुंबई में कुत्‍तो का रंग हो रहा हैं नीला, इसका राज छिपा है एक नदी में  

यह है वजह 

नवी मुंबई के तलोजा इलाके में स्‍थित कसादी नदी को इसका जिम्‍मेदार ठहराया गया है। इस नदी का पानी पूरी तरह से प्रदूषित हो चुका है। आसपास करीब हजारों फॉर्मास्‍यूटिकल, फूड और इंजीनियरिंग फैक्‍ट्रियां हैं। इन फैक्‍ट्रियों से निकला जहरीला पानी सीधे नदी में मिलता है। ऐसे में जब कोई जानवर इस पानी के संपर्क में आता है, तो उसके शरीर का रंग नीला पड़ जाता है। खबरों की मानें तो इलाके के कुछ कुत्‍ते इस नदी में आए थे। जिसका असर उनके शरीर पर पड़ा और वो नीले पड़ गए। कुछ लोगों ने इन कुत्‍तों की फोटो खींचकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दी।

अभी अभी: रेलवे स्टेशन पर मिली बम की सूचना, चारो तरफ मचा हाहाकार…

किसके लिए नुकसानदायक

महाराष्‍ट्र प्रदूषण बोर्ड के एक अधिकारी जयवंत हजारे के मुताबिक, कसादी नदी के पानी में टॉक्‍सिक की काफी मात्रा पाई गई है। इसमें मौजूद क्‍लोराइड पेड़-पौधों व जीव-जंतुओं के लिए काफी नुकसानदायक है। यही वजह है इस पानी के संपर्क में आते ही कुत्‍तों का रंग नीला पड़ गया। 

 

You May Also Like

English News