6,646 मर्दों को उनकी बीवियों ने दौड़ा-दौड़ा कर पिटा

लखनऊ – अक्सर देखा जाता है कि महिलाएं पुरुषों की हिसां का शिकार बनती हैं। हर साल ऐसे हज़ारों मामले सामने आते हैं जिनमें पत्नियाँ अपने पति के खिलाफ शिकायत करती हैं। लखनऊ में जब से 100 नंबर पर डायल करके पुलिस से शिकायत करने कि सहुलियत मिली है। पुलिस को ऐसे अपराध की तुरंत शिकायत मिल जाती है। लेकिन अभी तक जहां पुरुष द्वारा महिलाओं के साथ हिंसा के मामले सामने आ रहे थे वहीं अब सब कुछ बदल गया है।

 6,646 मर्दों को उनकी बीवियों ने दौड़ा-दौड़ा कर पिटा6,646 पुरुषों ने की पुलिस से शिकायत

आज हम बात कर रहे हैं यूपी के लखनऊ की जहाँ अभी तक महिलाएं पुलिस से मदद के लिए 100 नंबर पर फोन भी करती थीं, अब पुरुष करने लगे हैं। दरअसल, यूपी पुलिस के रिकार्ड से ये बात सामने आई है कि पिछले साल यानि 2016 में 100 नंबर पर 6,646 पुरुषों ने फोन करके अपनी पत्नियों की हिंसा से बचाने के लिए पुलिस से मदद मांगी है। जी हां ये बात बिल्कुल सच है ऐसा ही हुआ है। अब घरेलू हिंसा का शिकार महिलाएं नहीं बल्कि पुरुष बन रहे हैं। हालांकि ये अपने आप में एक बेहद चौकाने वाली बात है।

घरेलू हिंसा का शिकार बने 6,646 पुरुष

यूपी पुलिस ने पिछले एक साल का रिकार्ड जारी किया है, जिसके मुताबिक साल 2016 में 6, 646 पुरुषों ने 10 नंबर पर फोन करके अपनी हिंसक पत्नियों से बचाने के लिए मदद मांगी। गौरतलब है कि यूपी में 100 नंबर की सेवा को शुरू हुए एक साल हो चुके हैं और इसके जो रिकार्ड सामने आ रहे  हैं वो वाकई में चौकाने वाले है। इस बात का खुलासा उस वक्त हुआ जब अधिकारियों ने पिछले साल का रिकार्ड निकालकर उसका विश्लेषण किया। पुलिस के मुतबिक एक साल में 100 नंबर पर कुल 43 लाख शिकायतें दर्ज कराई गई हैं, जिने 7 लाख शिकायतें से घरेलू हिंसा की हैं।

सामने आए चौकाने वाले खुलासे

एडीजी आदित्य मिश्रा ने इस बारे में प्रेस को बताया कि इन आंकड़ों के विश्लेषण से एक दिलचस्प बात यह भी सामने आई कि 6,500 पुरुषों ने अपनी पत्नियों पर पीटने का आरोप लगाया है। हालांकि, 100 नंबर पर फोन करके पिछले एक साल में 1.53 लाख महिलाओं  ने घरेलू हिंसा के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। आपको बता दें कि सबसे ज्यादा घरेलू हिंसा की शिकायतें यूपी के लखनऊ, गोरखपुर, कानपुर, इलाहाबाद और आगरा से आई हैं। चौकाने वाली बात ये हैं कि घरेलू हिंसा की सबसे ज्यादा शिकायतें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के क्षेत्र गोरखपुर से हैं।

 

You May Also Like

English News