Breaking: सनकी पिता ने दो मासूम बेटों को फावड़े से काट डाल, मंजर देख लोग भी दंग रह गये

लखनऊ : उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जनपद में शनिवार की रात एक दिल दहला देने वाली घटना घटी। मुबारकपुर के सरदारपुर बाबू गांव में रहने वाले एक किसान ने अपने दो मासूम बेटों की फावड़े से वारकर हत्या कर दी। दरिंदे ने दोनों मासूमों की हत्या क्यों फिलहाल इसके पीछे उसके सनकी होने की बात कही जा रही है। पुलिस ने आरोपी पिता को गिरफ्तार कर लिया है।


सरदारपुर बाबू गांव में किसान महेंद्र यादव अपने परिवार के साथ रहता है। बताया जाता है कि एक माह से उसकी मानसिक हालत खराब चल रही थी। परिजन अपने स्तर से महेंद्र का इलाज करा रहे थे। शनिवार की शाम महेंद्र गांव में घूमकर अपने घर पहुंचा। इसके बाद वह बच्चों को टाफी दिलाने की बात कह कर उन्हें लेकर घर से चल दिया।

महेंद्र के साथ उसकी आठ वर्षीय बड़ी बेटी अंशिका चार वर्षीय बेटा अंश व डेढ़ वर्षीय बेटा छोटू थेे। महेंद्र अपने तीनों बच्चों को लेकर घर से लगभग 500 मीटर दूर स्थित अपने नलकूप पर पहुंचा और फिर बेटी अंशिका को पैसे देकर टाफी और बिस्कुट लाने के लिए भेज दिया। अंशिका वहां से बिस्कुट लेने के लिए गांव की दुकान की ओर चल दी।

इसी बीच मौका पाकर महेंद्र ने नलकूप में रखा फावड़े से दोनों मासूम बच्चों के गले पर वार कर दिया। इस घटना में दोनों मासूमों की मौके पर ही मौत हो गयी। उधर अंशिका जब टाफी बिस्कुट लेकर नलकूप पर पहुंची तो दोनों भाइयों को लहूलुहान देख शोर मचाते हुए घर की ओर भागी। उधर महेंद्र भी बदहवास हालत में नलकूप से अपने घर पहुंचा और चारपाई पर जाकर लेट गया।

अंशिका के बताने पर महेंद्र की पत्नी संजू देवी भागकर नलकूप पर पहुंची तो दोनों बेटों की खून से लथपथ लाश पड़ी देख बदहवास हो गयी। देखते ही देखते इस वारदात की खबर पूरे गांव में आग की तरह फैल गयी। गांव के लोगों ने महेंद्र को घेर लिया और घटना की जानकारी पुलिस को दी गई। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने आरोपी महेन्द्र को गिरफ्तार कर दोनों बच्चों के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

You May Also Like

English News