70वें स्वतंत्रता दिवस के लिए सज रहा लाल किला, कड़ी सुरक्षा व्यवस्था

आजादी की 70वीं सालगिरह के लिए देश तैयार हो रहा है. दिल्ली का ऐतिहासिक लाल किला आजादी के जश्न के लिए तैयार हो रहा है. लाल किले के चारों तरफ तिरंगे की खूबसूरती दिखाई दे रही है. इस बार काफी कड़े सुरक्षा इंतजाम किए गए हैं.70वें स्वतंत्रता दिवस के लिए सज रहा लाल किला, कड़ी सुरक्षा व्यवस्थाBig Breaking: एयरपोर्ट में घुसा पानी, मची अफरा-तफरी, सभी फ्लाइट कैंसिल!

लाल किले के बाहरी हिस्से में रंगाई पुताई की जा रही है. किले की चारदीवारी के अंदर हजारों कुर्सियां और बड़े-बड़े LED स्क्रीन लगाए गए हैं. लाल किले के अंदर हजारों लोगों के बैठने का प्रबंध किया गया है. लाल किले की ऐतिहासिक प्राचीर से कल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जश्न के मौके पर देश को संबोधित करेंगे.

प्रधानमंत्री का संबोधन हर कोई देख सके इसके लिए लाल किले में बड़ी-बड़ी LED स्क्रीन लगाई गई हैं. जश्न में आतंकी खतरे की आशंका के मद्देनजर पूरी राजधानी में सुरक्षा चाक-चौबंद कर दी गई है और चप्पे-चप्पे पर सुरक्षा बलों की नजर है. लाल किले के बाहर और भीतर पैरामिलिट्री और दिल्ली पुलिस के साहसी पराक्रम कमांडो तैनात किए गए हैं. मेटल डिटेक्टर सभी दरवाजों पर लगाए गए हैं ताकि प्रधानमंत्री का संबोधन सुनने के लिए आने वाले तमाम लोग इन सुरक्षा दरवाजों से होकर गुजर सकें. पहली बार लाल किले पर दिल्ली पुलिस की महिला कमांडो टीम भी तैनात की जाएगी. लाल किले के अलावा राजधानी के दूसरे हिस्सों पर भी सुरक्षा व्यवस्था मुस्तैद कर दी गई है.

इस बार 15 अगस्त के अवसर पर काफी कड़ी सुरक्षा का प्रबंध किया गया है. पीएम जहां से भाषण देंगे, लालकिले की उस प्राचीर को न केवल पुलिस द्वारा सिक्योरिटी दी जाएगी, बल्कि उसमे एनएसजी कमांडो, स्पेशल कमांडो, पैरा मिलिट्री फोर्स शामिल होंगे.

जिस राह से पीएम गुज़रेंगे उसको सुबह 4 बजे से सभी के लिए बंद कर दिए जाएंगे. दिल्ली के कमिश्नर ने कल सभी डीसीपी से साथ एक मीटिंग की थी, जिसमें उन्हें सभी सुरक्षा तरीकों के बारे में सूचित किया गया था. बुलेटप्रूफ शीशे के अंदर से प्रधानमंत्री का भाषण होगा और लालकिले पर करीब 500 एनएसजी कमांडोज तैनात होंगे. यही नही 200 स्पेशल कमांडोज मंच स्थल से रेलिंग तक के दायरे में होंगे. पैरा मिलिट्री फोर्सेज की 37 कंपनियां भी सुरक्षा का जिम्मा संभालेंगी.

सुरक्षा व्यवस्था के अन्य महत्वपूर्ण बिंदु इस प्रकार हैं:

-3 हज़ार जवान लालकिले की अंदर ओर बाहर होंगे

-5 हज़ार जवान लालकिले के 5 किलोमीटर के दायरे में 

– 200 मेटल डिटेक्टर लगाए गए हैं चेकिंग के लिए

-1200 सीसीटीवी लालकिले के 3 किलोमीटर के दायरे में

– 3 चक्र का घेरा एसपीजी बनायेगी मंच स्थल के पास

– मैदान के सभी गेट के नीचे लगाई गई है लोहे की जालियां

– इस बार ड्रोन और लेज़र लाइट पर भी लगाई गई पाबंदी

– पिछली बार के मुकाबले इस बार 50 फीसदी ज्यादा सुरक्षा इंतजाम

You May Also Like

English News