आईजी की समीक्षा बैठक ने राजधानी पुलिस को फिर उठानी पड़ी फजीहत

लखनऊ:आईजी की अपराध समीक्षा बैठक में एक बार फिर राजधानी पुलिस को फजीहत का सामना करना पड़ा। आईजी ने अपनी समीक्षा बैठक में पाया कि राजधानी दुराचार, डकैती व लूट की घटनाओं मेें बढ़ोतरी हुई है। वहीं राजधानी पुलिस हत्या के मामले में फरार आरोपियों की गिरफ्तारी में भी फीसड्डïी साबित हुई है।
आईजी जोन ए. सतीश गणेश ने शनिवार को अपने दफ्तर में फैजाबाद व लखनऊ रेंज के सभी जनपदों के अपराध की समीक्षा बैठक की। इस बैठक ने फैजाबाद के डीआईजी, लखनऊ के डीआईजी व सभी जनपदों के पुलिस कप्तान मौजूद रहे। अपनी इस समीक्षा में बैठक में आईजी ने पाया कि फैजाबाद, बाराबंकी व अम्बेडकर नगर में हत्या की घटनाएं बढ़ी हैं। इस पर आईजी ने नाराजगी जतायी।

हत्या के सम्बन्ध में वांछित आरोपियों की समीक्षा करने पर पाया गया कि जनपद लखनऊ, हरदोई व उन्नाव में हत्या के सबसे अधिक आरोपी वांछित चल रहे है। आईजी ने उनकी गिरफ्तारी का आदेश दिया। वहीं हत्या के खुलासे के मामले में अमेठी, अम्बेडकरनगर व बाराबंकी की स्थिति संतोषजनक नहीं पायी गयी। इस पर पुलिस महानिरीक्षक ने कड़ी आपत्ति जतायी। वहीं लखनऊ, सीतापुर एवं खीरी जनपद में दुराचार के मामले भी बढ़े हैं।

इसी तरह दुराचार के सबसे अधिक आरोपी लखनऊ, रायबरेली व हरदोई में फरार चल रहे है। आईजी ने उनको फौरन गिरफ्तार करने के लिए कहा है। आईजी ने बताया कि लखनऊ, सीतापुर और फैजाबाद में डकैती की घटनाओं में इजाफा हुआ। वहीं डकैती के खुलासों में उन्नाव, लखनऊ व खीरी की स्थिति बहुत खराब है। वहीं लखनऊ, सीतापुर व हरदोई में सबसे अधिक डकैत फरार चल रहे हैं। इस पर आईजी ने नाराजगी जताते हुए प्रभावी कार्रवाई करने का आदेश दिया है।

आईजी ने बताया कि लूट के मामले में लखनऊ,फैजाबाद व सुल्तानपुर में बढ़ोतरी हुई है। आईजी ने बताया कि लखनऊ, उन्नाव व बाराबंकी पुलिस लूट के खुलासों को लेकर गंभीर नहीं है। इसके अलावा लखनऊ, हरदोई व रायबरेली जनपदों में कई लुटेरे फरार है। चोरी व वाहन चोरी के मामले में राजधानी पुलिस की निष्क्रियता पर आईजी ने नाराजगी जाहिर की है। लखनऊ के अलावा ,सीतापुर, बाराबंकी व सुल्तानपुर में वाहनों की चोरी व घरों में चोरी की घटनाएं बढ़ी हैं। आईजी ने इस बात पर नाराजगी जतायी है कि पहले भी पुलिस को ऐसे अपराधों को रोकने के लिए रणनीति तैयार कर उस पर काम करने के लिए आदेश दिया गया था। इसके बावजूद भी पुलिस ने सुधार नहीं हुआ।
आईजी ने दीपावली के त्यौहारे के मौके पर कड़ी चौकसी व गश्त को बढ़ाने का आदेश दिया है। वहीं आने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर भी आईजी ने चिन्हित वर्नेबिल एरिया व संवेदनशील मतदान केन्द्र का भ्रमण करने का आदेश दिया है। आईजी ने सभी वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक व पुलिस अधीक्षक को निर्देश् दिया है कि वह लोग अपने-अपने जनपदों में स्थिति संवेदनशील ग्रामों, मतदान केन्द्रों की संवेदनशीलता का आकलन कर आवश्यक निरोधात्मक कारवाई करा लें।

You May Also Like

English News