9,000 करोड़ लेकर भागे माल्या को वापस लाना आसान नहीं है अब…

भुवनेश्वर: केंद्रीय विदेश राज्य मंत्री जनरल वी.के. सिंह ने मंगलवार को यहां कहा कि विजय माल्या का भारत लाना आसान मुद्दा नहीं है, फिर भी उन्होंने आश्वासन दिया कि भगोड़े शराब व्यवसायी को भारत लाया जाएगा। उन्होंने हालांकि, किंगफिसर के पूर्व मालिक को इंग्लैंड से भारत लाने की समय सीमा बताने से इनकार कर दिया।9,000 करोड़ लेकर भागे माल्या को वापस लाना आसान नहीं है अब...विजय माल्या की वापसी तय नहीं

उन्होंने कहा कि मंगलवार को ब्रिटेन में माल्या की प्रत्यर्पण प्रक्रिया की सुनवाई शुरू होगी। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) और केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) विजय माल्या के प्रत्यर्पण के लिए प्रक्रिया की रूपरेखा तैयार कर रही है। प्रक्रिया पहले ही शुरू हो चुकी है।

सिंह ने कहा, “भारत और ब्रिटेन के बीच एक संधि है। ब्रिटेन हमारे द्वारा प्रत्यर्पण संधि के तहत जमा किए गए दस्तावेजों की जांच कर रहा है।” 

मंत्री ने कहा कि माल्या को भारत लाने के लिए समय सीमा तय नहीं की जा सकती, क्योंकि विदेशी सरजमीं से किसी व्यक्ति की प्रत्यर्पण प्रक्रिया कहीं अधिक जटिल है।

माल्या पर भारतीय बैंको का 9,000 करोड़ रुपये ऋण है। पिछले साल मार्च में वह भारत से फरार हो गया था, तब से ब्रिटेन में ही रह रहा है।

You May Also Like

English News