9000 नेपालीयों को बाहर निकालेगा अमेरिका

अमेरिका में ट्रम्प प्रशासन एक कड़ा और सख्त फैसला लेने वाला है. अमेरिका बाहरी नागरिकों का  अस्थायी स्टेटस खत्म कर उन्हें देश से निष्कासित करना चाहता है. इसके साथ ही अमेरिका गृह सुरक्षा विभाग नेपाल के 9,000 अप्रवासी नागरिकों के अस्थायी निवास परमिट रद्द करने की तैयारी कर रहा है. ज्ञात हों कि 2015 में नेपाल में आए भूकंप के बाद इन नेपाली नागरिकों को यहां अस्थायी संरक्षण स्थिति  के तहत कानूनी रूप से रहने की अनुमति मिली हुई है.अमेरिका में ट्रम्प प्रशासन एक कड़ा और सख्त फैसला लेने वाला है. अमेरिका बाहरी नागरिकों का  अस्थायी स्टेटस खत्म कर उन्हें देश से निष्कासित करना चाहता है. इसके साथ ही अमेरिका गृह सुरक्षा विभाग नेपाल के 9,000 अप्रवासी नागरिकों के अस्थायी निवास परमिट रद्द करने की तैयारी कर रहा है. ज्ञात हों कि 2015 में नेपाल में आए भूकंप के बाद इन नेपाली नागरिकों को यहां अस्थायी संरक्षण स्थिति  के तहत कानूनी रूप से रहने की अनुमति मिली हुई है.  इस तरह ऐसे में हजारों नेपालियों को एक साल के भीतर अमेरिका छोड़ना होगा. कुछ दस्तावेजों के मुताबिक गृह सुरक्षा विभाग की सचिव कर्स्टनजेन नेल्सन ने नेपाली नागरिकों को उनके अमेरिका छोड़ने के लिए एक साल की समय सीमा की छूट दी है.  बता दें कि उन्हें  24 जून 2019 के बाद निर्वासन का सामना करना पड़ेगा. गौरतलब है कि  नेपाल के फैसले पर अभी नील्सन ने कोई हस्ताक्षर नहीं किए हैं लेकिन आंतरिक रिपोर्ट बताती हैं कि एजेंसी आगामी दिनों में अपनी घोषणा करने की तैयारी कर रही है. खबरों के अनुसार 015 में नेपाल के भूकंप के बाद करीब 15,000 नेपाली प्रवासियों को टीपीएस स्टेटस मिला था लेकिन अमेरिका में सिर्फ 9,000 प्रवासी नेपाली ही रह रहे हैं.

इस तरह ऐसे में हजारों नेपालियों को एक साल के भीतर अमेरिका छोड़ना होगा. कुछ दस्तावेजों के मुताबिक गृह सुरक्षा विभाग की सचिव कर्स्टनजेन नेल्सन ने नेपाली नागरिकों को उनके अमेरिका छोड़ने के लिए एक साल की समय सीमा की छूट दी है.

बता दें कि उन्हें  24 जून 2019 के बाद निर्वासन का सामना करना पड़ेगा. गौरतलब है कि  नेपाल के फैसले पर अभी नील्सन ने कोई हस्ताक्षर नहीं किए हैं लेकिन आंतरिक रिपोर्ट बताती हैं कि एजेंसी आगामी दिनों में अपनी घोषणा करने की तैयारी कर रही है. खबरों के अनुसार 015 में नेपाल के भूकंप के बाद करीब 15,000 नेपाली प्रवासियों को टीपीएस स्टेटस मिला था लेकिन अमेरिका में सिर्फ 9,000 प्रवासी नेपाली ही रह रहे हैं.

You May Also Like

English News