Airtel के मालिक स्कूल-यूनिवर्सिटी के लिए दान करेंगे 7000 करोड़ रुपये

देश की सबसे बड़ी टेलिकॉम कंपनियों में शामिल भारती एयरटेल के मुखिया सुनील भारती मित्तल ने अपनी कुल संपत्ति के 10 फीसदी हिस्से को दान करने का फैसला लिया है। इस राशि की मदद से वो गरीब बच्चों के लिए देश के कई भागों में नए स्कूल और यूनिवर्सिटी खोलेंगे। यह राशि कुल मिलाकर 7 हजार करोड़ रुपये है, जिसमें कंपनी में तीन फीसदी हिस्सेदारी भी शामिल है। 
Airtel के मालिक स्कूल-यूनिवर्सिटी के लिए दान करेंगे 7000 करोड़ रुपयेइस नाम से खोलेगी स्कूल-यूनिवर्सिटी
सुनील भारती ने बयान जारी करते हुए कहा है कि वो इस राशि की मदद से गरीब बच्चों के लिए देश के कई इलाकों में सत्या भारती स्कूल की नई ब्रांचों के अलावा, सत्या भारती यूनिवर्सिटी भी खोलेगा। इसके अलावा देश के दो जिलों को खुले में शौच करने से मुक्त करने में भी मदद करेंगे। 

इस लिस्ट में हुए शामिल 
इस ऐलान के साथ ही सुनील भारती मित्तल उन गिने-चुने अरबपति भारतीयों में शामिल हो गए हैं, जिन्होंने अपनी संपत्ति को दान करने का फैसला किया है। इससे पहले इंफोसिस के चेयरमैन नंदन निलेकणी और उनकी पत्नी रोहिणी ने वॉरेन बफेट-बिल गेट्स के गिविंग प्लेज पहल पर हस्ताक्षर किए थे। इस पहल में विश्व के अरबपति लोग अपनी संपत्ति का काफी बड़ा हिस्सा दान करने की घोषणा करते हैं।

भारती फाउंडेशन कर रहा है ये काम
भारती एयरटेल ने 2000 में अपनी सीएसआर ईकाई भारती फाउंडेशन की स्थापना की थी। अभी इस ईकाई में फुल टाइम सीईओ और सीओओ के अलावा 8 हजार शिक्षक, 200 प्रोफेशनल और स्कूलों में 2.5 लाख बच्चे पढ़ाई कर रहे हैं। 

ये लोग कर चुके हैं हस्ताक्षर 
इस मुहिम में अभी तक विप्रो के चेयरमैन अजीम प्रेमजी, बायोकॉन की एमडी किरण मजूमदार शॉ और शोभा डेवलपर्स के पीएनसी मेनन जुड़ चुके हैं।  

 

You May Also Like

English News