Alert: तीन से चार दिन तक तूफान और तेज बारिश की संभावना!

नई दिल्ली: अगले तीन दिन देश में तूफान का कहर जारी रहने वाला है। भारतीय मौसम विभाग ने चेतावनी जारी करते हुए कहा है कि समूचे उत्तरी और पश्चिमी राज्यों के लोगों के लिए खतरा अभी टला नहीं है। बुधवार को पश्चिमी विक्षोभ और चक्रवाती तूफान के चलते देश के उत्तरी पश्चिमी राज्यों में धूल भरी तेज हवाओं के साथ गरज के साथ भारी बारिश ने कहर बरपाया है।


इस तेज अंधड़ में करीब 149 लोगों के मौत होने की खबर है। जिसमें यूपी, राजस्थान, उत्तराखंड, मध्य प्रदेश व बंगाल में उठे बवंडर और तेज बारिश से भारी तबाही मचाई है। इस आंधी में करीब 400 से ज्यादा पशु भी मारे गए। 100 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चली आंधी से यूपी में सर्वाधिक 92 लोगों की जानें गई और 90 घायल हुए। मौसम विभाग ने चेतावनी जारी करते हुए कहा कि मौसम का यह बिगडै़ल मिजाज अगले तीन से चार दिनों तक बना रहेगा।

भारतीय मौसम विभाग अधिकारी ने बताया कि गंगा के मैदानी क्षेत्र, बंगाल, बिहारए झारखंड और समूचे छोटा नागपुर वाले इलाके में गरमी के मौसम में आने वाले ऐसे तूफान को काल बैशाखी के नाम से जाना जाता है। यह एक तरह की पूर्व चेतावनी है। हालांकि इस महीने में अकसर देश इस तरह के तूफान का सामना करता रहा है। भारतीय मौसम विभाग ने चेतावनी जारी करते हुए समूचे उत्तरी पश्चिमी राज्यों में लोगों को चक्रवाती तूफान से बचने की हिदायत दी है।

इसमें उत्तर प्रदेश के पूर्वांचल, तराई और मध्य उत्तर प्रदेश के जिलों में स्थानीय स्तर की चेतावनी भी जारी की गई है। अगले तीन से चार दिनों तक चक्रवाती तूफान की आशंका है। इससे जहां राजस्थान में धूल भरी आंधी के साथ बारिश होगी वहीं मैदानी क्षेत्रों में ओलावृष्टि के साथ बारिश और तेज हवाएं चलने के आसार हैं। इससे जनजीवन प्रभावित हो सकता है।

भारतीय मौसम विभाग ने चेतावनी दी है कि पांच मई को उत्तर प्रदेश के ज्यादातर पूर्वी और पश्चिमी जिलों में बिजली की तेज गर्जन और बौछार के साथ तेज गति की हवाएं चल सकती हैं। वहीं राजस्थान के पश्चिमी हिस्से में सात मई को धूल भरी आंधी और गर्जन की संभावना है। इसके अलावा मौसम विभाग की मानें तो चार, पांच और छह मई को उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, जम्मू.कश्मीर, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, यूपी, पूर्वी राजस्थान सहित तटीय क्षेत्रों के अलग.अलग हिस्सों में गर्जन के साथ तेज हवाएं चल सकती हैं।

शनिवार को गोरखपुर, बलिया, मऊ, गाजीपुर, अंबेडकरनगर, बस्ती, कुशीनगर, महाराजगंज, संतकबीर नगर, सिद्धार्थनगर, बहराइच, गोंडा, बलरामपुर, सीतापुर, खीरी, शाहजहांपुर, पिलीभीत, रामपुर, बरेली, बदायूं, अलीगढ़, एटा, महामायानगर, मथुरा, गौतमबुद्ध नगर, बुलंदशहर, मुरादाबाद, मुजफ्फरनगर, बिजनौर, बागपत जिलों में तेज गर्जना और आंधी के आसार हैं।

You May Also Like

English News