Big Breaking: अभी-अभी लखनऊ में कारोबारी के 10.20 लाख रुपये लूटे गये, मची हड़कम्प!

लखनऊ: एक तरफ राजधानी लखनऊ पुलिस इस साल अपराध को कम दिखाने के लिए आकंडेबाजी कर रही है, वहीं दूसरी तरह लुटेरे वारदात को अंजाम देकर पुलिस की इस आंकड़ेबाजी पर पानी फेरते  दिख रहे हैं। अब अलीगंज इलाके में दिनदहाड़े बाइक सवार दो असलहाधारी एचडीएफसी बैंक के बाहर के एक बाहर एक कारोबारी के कर्मचारी से 10.20 लाख रुपये लूट ले गये। दिनदहाड़े हुई लाखों की इस घटना के बाद पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंच गये। पुलिस ने बाइक सवार लुटेरों की तलाश में इधर-उधर घेराबंदी की पर कुछ सफलता हाथ नहीं लगी। अब पुलिस जल्द इस सनसनीखेज वारदात के खुलासे का दावा कर रही है।


एसपी टीजी हरेन्द्र यादव ने बताया कि महानगर के गोल मार्किट महानगर निवासी कृष्ण जीवन रस्तोगी की ओम एजेंसी नाम से केशव नगर में कम्पनी है जहां से वह आईटीसी प्रोडक्ट्स की डिस्ट्रिब्यूटिंग करते है। बताया जाता है कि कृष्णजीवन सोमवार सुबह वह अलिगंज के नेहरू वाटिका के सामने स्थित एचडीएफसी बैंक रुपये जमा कराने के लिए पहुंचे थे। कार से उतर कर कारोबारी अंदर चले गये।

उनके पीछे से उनके कर्मचारी कमलानगर निवासी विजयशंकर द्विवेदी व चालक सुशील शुक्ला कार से कैश निकालने लगे। कार से उतरकर एक बैग सुशील ने टांगा और दूसरा विजयशंकर ने। सुशील आगे आगे था ,जबकि विजयशंकर उसके पीछे चल रहा था। चालक बैग लेकर बैंक के अंदर पहुंच गया जबकि विजयशंकर बैंक के गेट से 30 मीटर दूरी पर था।

बताया जाता है कि इस बीच पीछे से एक बदमाश वहां पहुंचा और उसने विजयशंकर के कनपटी पर तमंचा लगा दिया व हाथ से बैग छीन लिया। बैग छीनने के बाद वह पहले से बाइक पर इंतजार कर रहे अपने साथी के साथ बैठकर फरार हो गया। बैंक के बाहर हुई लूट की इस घटना के बाद वहां अफरा-तफरी मच गयी। कर्मचारी विजयशंकर से लूटे गये बैग में 10.20 लाख रुपये मौजूद थे। लाखों की लूट की सूचना पाकर मौके पर आईजी जयनारायण सिंह, एसएसएपी, एसपी टीजी, क्राइम ब्रांच व अलीगंज पुलिस भी पहुंच गयी। पुलिस ने इसके बाद बाइक सवार बदमाशों की तलाश मेें पूरे शहर में चेकिंग करायी पर कुछ हाथ नहीं लगा। इस संबंध में अलीगंज पुलिस ने लूट की रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

 

सीसीटीवी कैमरे में कैद हुआ एक बदमाश
कारोबारी के कर्मचारी विजयशंकर से बैंग लूटने वाले बदमाश का फुटेज बैंक के बाहर लगे सीसीटीवी कैमरे में रिकार्ड हो गया। घटना के बाद छानबीन के दौरान पुलिस को हेलमेट पहने एक बदमाश का फुटेज मिला। फुटेज में एक बदमाश कर्मचारी से बैग लूटता दिख रहा है और उसके हाथ में असलहा भी मौजूद है। हेलमेट पहने होने की वजह से बदमाश का चेहरा साफ नहीं दिख सका। अब पुलिस घटनास्थल के पास लगे अन्य सीसीटीवी कैमरों की मदद से बाइक से भागे बदमाशों का फुटेज खंगाल रही है।

 


बिना बंदूक के मौजूद गार्ड बदमाशों के पीछे दौड़ा
कर्मचारी विजयशंकर के साथ लूट के वक्त बैंक का सिक्योरिटी वहीं मौजूद थे, पर कुछ पल के लिए वह भी यह घटना देख सन्न रह गया। बदमाशों के भागते ही गार्ड अनूप सिंह ने बाइक सवार बदमाशों का पीछा किया पर बाइक सवार बदमाश तेज रफ्तर के चलते फरार होने में सफल रहे। गार्ड का कहना है कि वह बदमाशों के पीछे जैसे ही दौड़ा, उन लोगों ने उस पर असलहा तान दिया। असलहा देख वह सहम गया और वहीं रूक गया। घटनास्थल के पास मौजूद लोगों का कहना था कि अगर गार्ड के पास बंदूक होती तो शायद लुटेरों की वारदात को अंजाम देने की हिम्मत न पड़ी। वहीं अगर घटना के बाद गार्ड बंदूक के साथ मौजूद होता तो शायद वह अपने असलहे का भी प्रयोग कर सकता था, पर ऐसा नहीं हुआ। बदमाशों ने बिना बंदूक के मौजूद गार्ड की बेबसी का फायदा उठाया और बड़ी आराम से लूट को अंजाम देकर फरार हो गये।

पीछे पीछे कारोबारी का बेटा कैश लेकर पहुंचा बैंक
व्यापारी कृष्णजीवन ने बताया कि वे अक्सर बैंक में पैसा जमा करने के लिए आते रहते है। सोमवार को वह पहले बैंक चले आये थे और कर्मचारियों को बैंक लेकर आने के लिए कहा था। सोमवार सुबह जब उनके कर्मचारी विजयशंकर और सुशील पैसा जमा करने आ रहे थे तो उनके पीछे पीछे उनका बेटा सचिन भी कैश लेकर आ रहा था। सचिन ने बताया कि उसके पास सात लाख रुपये कैश था जिसे वह जमा करने आया था। व्यापारी कृष्णजीवन ने बताया कि सुशील के पास जो बैग था उसमें लूटे हुए बैग से भी ज्यादा कैश था। गनीमत रही कि सुशील और सचिन बदमाशों का निशाना नही बने वरना ज्यादा कैश लूट जाता।

काफी देर के बाद मौके पर पहुंचे एसएसपी
दिनदहाड़े लूट की इस वारदात की सूचना जैसे ही अधिकारियों को मिली, आईजी से लेकर अन्य अधिकारी मौके पर पहुंच गये, पर एसएसपी दीपक कुमार को पहुंचने में काफी समय लग गया। आईजी मौके पर पहुंचकर छानबीन कर वापस लौट गये, तब तक एसएसपी मौके पर नहीं पहुंच सके। घटना के काफी समय के बाद एसएसपी मौके पर पहुंचे और छानबीन कर वापस लौट गये।

 

loading...

You May Also Like

English News