Big Breaking: अमेरिका के मियामी एयरपोर्ट को उड़ाने की धमकी देने वाला यूपी का निकला, एटीएस आरोपी तक पहुंची!

लखनऊ: अमेरिका के मियामी एयरपोर्ट पर हमला करने की धमकी देने वाले को यूपी एटीएस ने पकड़ा है। पकड़ा गया आरोपी यूपी के जालौन जनपद का रहने वाला है। युवके पास एटीएस ने कम्प्यूटर, मोबाइल फोन और फर्जी आधार कार्ड बरामद किया। 1000 डालर के बिटक्वाइग का नुकसान होने पर युवक ने अमेरिका की सुरक्षा एजेंंसी एफबीआई से मदद मांगी थी। मदद न मिलने पर उसने मियामी एयरपोर्ट पर हमले की धमकी दी थी।


डीजीपी ओपी सिंह ने बताया कि अमेरिका की सुरक्षा एजेंसी एफबीआई ने कुछ दिन पहले देश की सुरक्षा एजेंसी से इस बात की शिकायत की थी कि एक युवक लगातार मियामी एयरपोर्ट पर एके 47, सुसाइड बेल्ट लेकर हमला करने की धमकी दे रहा था। धमकी देने के लिए युवक इंटरनेट कॉल का प्रयोग कर रहा था।

एफबीआई की इस शिकायत को गंभीरत से लेते हुए छानबीन की गयी तो इंटरनेट कॉल की आईपी एड्रेस ट्रेस किया गया जो यूपी के जालौन जनपद का निकला। इसके बाद आरोपी युवक तक पहुंचने की जिम्मेदारी यूपी एटीएस को दी गयी। यूपी एसटीएस ने छानबीन की और जालौन जनपद में रहने वाले उस युवक तक पहुंच गयी, जिसने मियामी एयरपोर्ट को बम से उड़ाने की धमकी दी थी। एटीएस की टीम ने पूछताछ की तो युवक ने धमकी देने की बात कुबूल ली। युवक के पास से धमकी देने के लिए प्रयोग होने वाला कम्प्यूटर, मोबाइल फोन और फर्जी आधार कार्ड मिला।

इसलिए दी थी धमकी
पूछताछ की गयी तो युवक ने उसने अपने पिता से 70 हजार रुपये कारोबार के लिए लिये थे। इसके बाद उसने उस रुपये से 1 हजार डालर के बिटक्वाइन खरीदे थे। इस बीच किसी जालसाज ने युवक को अपने जाल में फंसा और उसने 3 हजार रुपये डालर के बिटक्वाइन हड़प लिये। इसके बाद युवक ने अपना नाम बदल अमेरिका की सुरक्षा एफबीआई से ई-मेल के माध्यम से इस बात की शिकायत की थी। युवक एफबीआई से मदद की उम्मीद कर रहा था पर उसको कोई मदद नहीं मिली। बस इसी बात से नाराज युवक ने अमेरिका के मियामी एयरपोर्ट पर हमले की धमकी देना शुरू कर दी। डीजीपी ओपी सिंह ने बताया कि आरोपी युवक का अपराध ऐसा नहीं है, कि उसको गिरफ्तार किया जा सके, अब उसके खिलाफ पुलिस कानूनी कार्रवाई कर रही है और युवक के खिलाफ कोर्ट में चार्जशीट दाखिल की जायेगी।

You May Also Like

English News