Big Breaking: इस क्रिकेटर के भाई को किया गया गिरफ्तार, जानिए क्यों!

सिडनी: ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर उस्मान ख्वाजा के भाई को गुरुवार को काउंटर-टैररिज्म पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। ख्वाजा के भाई को टेरर टारगेट की नकली सूची बनाने के मामले में गिरफ्तार किया गया है। एक पुलिस सूत्र ने बताया कि 39 वर्षीय अर्साकन ख्वाजा को सिडनी में गिरफ्तार किया गया।


उस पर आरोप है कि उसने न्याय को प्रभावित करने के लिए नकली दस्तावेजों का सहारा लिया। पुलिस ने एक बयान जारी कर कहा है कि यह गिरफ्तारी अगस्त में न्यू साउथ वेल्स विश्वविद्यालय परिसर में मिले एक कथित दस्तावेज को लेकर है जिसमें आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने की योजनाओं का जिक्र था। एक ऑस्ट्रेलियाई अखबार ने खबर दी है कि अर्साकन ख्वाजा यूनिवर्सिटी में 25 वर्षीय मोहम्मद कमेर निजामद्दीन का सहयोगी है।

निजामद्दीन को कथित आतंकी सूची के मामले में गिरफ्तार किया गया था। लेकिन बाद में यह बात सामने आई कि वहां मिले दस्तावेज और निजामद्दीन की हैंड राइटिंग मेल नहीं खाती। आरोपों से यह साबित नहीं होता है कि इस सूची का विश्वसनीय हत्या प्लॉट से कोई लेना.देना है। इन दस्तावेजों को लिखने का मकसद अभी तक साबित नहीं हुआ है।

गिरफ्तारी के बाद मंगलवार की दोपहर को ख्वाजा को पैरामाटा के स्थानीय कोर्ट में पेश किया गया। यहां उन्हें कड़ी शर्तों के साथ बेल मिल गई। कोर्ट ने फिलहाल उनका पासपोर्ट भी जमा करने के आदेश दिए हैं। पाकिस्तान में जन्मे ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज उस्मान ख्वाजा चोट के कारण पिछले कुछ समय से टीम से बाहर चल रहे हैं। गुरुवार से भारत के खिलाफ शुरू हो रही चार टेस्ट मैचों की सीरीज से उनकी वापसी हो सकती है।

You May Also Like

English News