Big Breaking: मुस्लिम युवक पर हमला कर ,दी मोहल्ले वालों को धमकी, एफआईआर दर्ज!

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के आशियाना के सालेहनगर इलाके में रहने वाले एक नगर निगमकर्मी को कुछ दबंगों ने बेवजह से पीट कर सम्प्रादायिक रंग देने की कोशिश की। आरोपियों ने पीडि़त के घर पर भी हमला किया। लोगों के जमा होने पर दबंग अपनी दो बाइक छोड़कर मौके से फरार हो गये। पुलिस ने दोनों बाइक को अपने कब्जे में ले लिया है और पीडि़त की शिकायत पर एफआईआर दर्ज कर ली है।


आशियाना के सालेहनगर इलाके में नगर निगम कर्मचारी मोहम्मद फुरकान अपने परिवार के साथ रहता है। फुरकान ने बताया कि बुधवार की रात खाना खाने के बाद वह सड़क पर टहल रहा था। इस बीच कुछ दूरी पर रहने वाले दबंग युवकों ने उसको पकड़ लिया और सड़क पर गुण्डई करने का आरोप लगाते हुए गाली-गलौज करना शुरू कर दिया।

पीडि़त ने जब दबंगों की इस हरकत का विरोध किया तो दबंगों ने फुरकान को बुरी तरह पीटा। मारपीट की इस घटना में वह बेहोश हो गया। परिवार के लोगों को जब इस बात का पता चला तो वह लोग उसको उठा कर घर ले गये। इस बीच दबंगों ने फिर से फुरकान के घर पर हमला बोल दिया। फुरकान का कहना है कि दबंगों के हाथ में असलहे, राड और डंडे थे।

मारपीट और चीख पुकार की आवाज सुन मोहल्ले के लोग मदद के लिए दौड़े तो आरोपियों ने उन लोगों को दूसरे समुदाय का होने की बात कहते हुए मोहल्ले में न रहने की धमकी दी। इस बीच मोहल्ले के लोगों ने सूचना पुलिस कंट्रोल रूम को दे दी। पुलिस को आता देख बाइक सवार दबंग वहां से भाग खड़े हुए, पर आरोपियों की दो बाइक मौके पर ही छूट गयी। पुलिस ने घायल फुरकान को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया। वहीं मौके से मिली दोनों बाइक को पुलिस ने अपने कब्जे में ले लिया है।

तीन नामजद बाकी अज्ञात के खिलाफ दर्ज की गयी एफआईआर
पीडि़त फुरकान ने बताया कि उस पर हमला मोहल्ले के पास में ही रहने वाले गोलू लोधी, राहुल यादव, कपिल तिलकधारी सहित 10 से 12 अज्ञात युवकों ने किया था। पीडि़त ने बताया कि आरोपियों का उससे कभी कोई झगड़ा नहीं हुआ। उन लोगों ने उस पर हमला क्यों किया, यह बात वह खुद नहीं जानता है।

You May Also Like

English News