Big Breaking: यूपी के इस जिले में हुआ बवाल, तोडफ़ोड़, पुलिस को आंसू गैस का करना पड़ा प्रयोग!

अम्बेडकरनगर: उत्तर प्रदेश के अम्बेडकरनगर जिले के एनटीपीसी टांडा के निर्माणाधीन फेज टू के ब्वायलर से गिरकर मजदूर की मौत का मामला एनटीपीसी गेट पर सड़क जाम कर प्रदर्शन कर रहे परिजन शव को दिए जाने की मांग कर रहे थे कि अचानक पुलिस ने भीड़ को तितर बितर करने के लिए लाठीचार्ज कर दिया। आक्रोशित लोगों को काबू में करने के लिए पुलिस ने आंसू गैस के गोले भी छोड़े, पुलिस के कई वाहनों को भी क्षतिग्रस्त कर दिया गया। मौके पर एडीएमए एएसपी समेत कई थानों की फोर्स तैनात है। स्थिति नियंत्रण में होने का दावा किया जा रहा है।

एनटीपीसी टांडा के निर्माणाधीन फेज टू के ब्वायलर पर काम कर रहे श्रमिक सुनील कुमार निवासी डल्ला भगवानपुर थाना इब्राहिमपुर घायल हो गया था आनन फानन में उसे ट्रामा सेंटर लखनऊ भेजा गया थाए जहां उसकी मौत हो गई। बुधवार को सुबह एनटीपीसी गेट पर पहुंचे परिजन सुनील कुमार के शव की मांग करने लगे।

बताया जाता है कि मौके पर पहुंचे इब्राहिमपुर थानाध्यक्ष अरविंद पांडेय ने यह कह दिया कि जाओ लखनऊ से शव को ले आओ। थानाध्यक्ष के गैरजिम्मेदाराना बयान से परिजन और ग्रामीण भड़क उठे।सड़क जामकर प्रदर्शन करना शुरु कर दिया पुलिस ने भीड़ को हटाने के लिए लाठीचार्ज कर दिया।

इससे नाराज ग्रामीणों ने पुलिस के दो वाहनों को क्षतिग्रस्त कर दिया। बाद में बेकाबू भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े। एडीएम गिरजेश त्यागी और अपर पुलिस अधीक्षक ओमप्रकाश सिंह की अगुवाई में कई थानों की फोर्स मौके पर तैनात है।

स्थिति सामान्य होने का दावा किया जा रहा है। एएसपी ओमप्रकाश सिंह ने हालत सामान्य होने का दावा करते हुए बताया कि घटना के कारणों की छानबीन की जा रही है आक्रोशित लोगों को समझा बुझाकर शांत करा दिया गया है। लखनऊ से शव को लाकर परिजनों को सौंपने की कार्यवाही की जा रही है

You May Also Like

English News