Big Breaking: यूपी विधान परिषद सभापति के नौकर को पुलिस ने किया गिरफ्तार, जानिए क्यों?

लखनऊ: उत्तर प्रदेश विधान परिषदके सभापति रमेश यादव के बेटे अभिजीत यादव उर्फ विवेक की हत्या के मामले में पुलिस ने उनके नौकर सर्वेश विश्वकर्मा को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस का कहना है कि अभिजीत की हत्या में रमेश यादव की पत्नी मीरा के अलावा नौकर सर्वेश भी शामिल था। इस मामले में मीरा यादव को पुलिस पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है।


एसपी पूर्वी सर्वेश कुमार मिश्र ने बताया कि विवेक की हत्या के मामले में पुलिस ने विवेक की मां मीरा यादव को 22 अक्टूबर को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। विवेक की हरकतों से परेशान होकर मीरा यादव ने अपने बेटे की हत्या की थी। परिवार वालों ने हत्या का स्वाभाविक मौत का रूप देने की कोशिश भी की थी। यहां तक कि विवेक के शव को परिवार के लोग अंतिम संस्कार के लिए जे जा रहे थे, पर पुलिस ने विवेक के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा था।

पीएम रिपोर्ट में इस बात का खुलासा हुआ था कि विवेक की गला कसकर हत्या की गयी थी। इसके बाद इस मामले में पुलिस ने हत्या की रिपोर्ट दर्ज करते हुए विवेक की मां मीरा यादव को गिरफ्तार किया था।

विवेक की हत्या के मामले में छानबीन कर रही हजरतगंज पुलिस ने विवेक के नौकर बाराबंकी जहांगीराबाद निवासी सर्वेश विश्वकर्मा की भूमिका संदिग्ध मिली। छानबीन और साक्ष्य जुटने के बाद सोमवार को हजरतगंज पुलिस ने 1090 चौराहे के पास से नौकर सर्वेश विश्वकर्मा को भी गिरफ्तार कर लिया। एसपी पूर्वी ने बताया कि नौकर सर्वेश भी इस हत्या में शामिल था। अभी विवेक की हत्या के मामले में पुलिस बाकी परिवार के लोगों की भूमिका की जांच कर रही है।

यह है पूरी घटना
विधान परिषद के सभापति रमेश यादव के नाम से दारूलशफ में एक फ्लैट आवंटित है। इस फ्लैट में उनकी पत्नी मीरा यादव और परिवार के अन्य लोग रहते थे। बताया जाता है कि 20 अक्टूबर की रात रमेश यादव के बेटे विवेक की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गयी थी। इसके बाद अगले दिन परिवार के लोग विवेक की मौत को स्वभाविक मौत बताकर उसके अंतिम संस्कार में जुट गये। इस बीच विवेक की हत्या की खबर उठी तो पुलिस ने विवेक के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। पीएम रिपोर्ट में गला दबाकर हत्या की बात की पुष्टिï हुई थी।

You May Also Like

English News