Big Breaking: होगमार्ड मुख्यालय में होमगार्ड ने खुद को लगायी आग, जानिए क्यों?

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ आलमबाग के जेल रोड स्थित डीजी होमगार्ड मुख्यालय में डीजी सूर्य कुमार शुक्ला के विदाई समारोह के दौरान उस वक्त हड़कम्प मच गया, जब बरेली से आये एक होमगार्ड ने खुद पर पेट्रोल डालकर आग लग ली। आग की लपटों में घिरे होमगार्ड को वहां मौजूद लोगों ने किसी तरह बचाया और इलाज के लिए सिविल अस्पताल में भर्ती कराया। होमगार्ड मुख्यालय में हुई इस घटना से कुछ देर के लिए अफरा-तफरी जैसा माहौल पैदा हो गया।


इंस्पेक्टर आलमबाग ने बताया कि बरेली जनपद निवासी 47 वर्षीय राजकुमार होमगार्ड विभाग में तैनात है। वर्ष 2014 में उसकी बदांयू चुनाव ड्यूटी लगी थी। ड्यूटी में लापरवाही के चलते उसको निलिम्बत कर दिया गया था। इसके बाद उसको बहाल नहीं किया गया था। राजकुमार अपनी बहाली के लिए होमगार्ड मुख्यालय बराबर चक्कर लगा रहा था, पर उसकी कोई सुनवायी नहीं हुई।

शुक्रवार को जेल रोड स्थित होमगार्ड मुख्यालय में डीजी होमगार्ड सूर्यकुमार शुक्ला की विदाई का समारोह आयोजित किया गया था। बताया जाता है कि सुबह करीब 11 बजे राजकुमार भी वहां पहुंच गया। विदाई समारोह का कार्यक्रम चल रहा था। इस बीच राजकुमार ने खुद पर पेट्रोल डालकर आग लगा ली। राजकुमार को आग की लपटों में घिरा देख वहां हड़कम्प मच गया। कुछ पल के लिए अफरा-तफरी का माहौल पैदा हो गया।

मुख्यालय में मौजूद लोगों ने किसी तरह आग की लपटों में घिरे राजकुमार को बचाया। इसके बाद उसको इलाज के लिए वहीं के लोगों ने सिविल अस्पताल में भर्ती कराया। आग से राजकुमार करीब 60 प्रतिशत तक झुलस गया। कुछ देर के बाद इस घटना की सूचना आलमबाग पुलिस को दी गयी। बताया जाता है कि इलाज के दौरान राजकुमार सिविल अस्पताल से भाग निकला। बाद में किसी तरह उसको फिर से पकड़ा गया और अस्पताल में भर्ती कराया गया।

पुलिस ने परिवार वालों को दी सूचना
इंस्पेक्टर आलमबाग ने बताया कि राजकुमार के आत्मदाह करने की सूचना उसके परिवार वालों को दे दी गयी है। पुलिस की फोन पर राजकुमार के भाई से बातचीत हुई है। परिवार के लोग बरेली से लखनऊ आ रहे हैं। परिवार के लोगों का कहना है कि नौकरी जाने के बाद से राजकुमार मानसिक रूप से तनाव में रहने लगा था।

बहाली के नाम पर रुपये मांगने का भी आरोप
आग से झुलसे राजकुमार ने बहाली के नाम पर रुपये मांगे जाने का भी गंभीर आरोप लगाया है। उसका कहना है कि वह कई बार होमगार्ड मुख्यालय बहाली के लिए चक्कर लगा चुका था, पर उसकी कोई सुनवाई नहीं हो रही थी। राजकुमार ने मुख्यालय में तैनात एक बाबू पर भी बहाली के एवज में रुपये मांगने का गंभीर आरोप लगाया है।

You May Also Like

English News