Big News: कबीर की नगरी पहुंची पीएम मोदी और सीएम योगी, जानिए क्या कहा?

मगहर: संत कबीर की 500वीं पुण्यतिथि पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी में यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने मगहर में एक जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान सीएम योगी ने जातिवाद और क्षेत्रवाद जैसे संकीर्ण दायरों से ऊपर उठकर काम करने की अपील की। पीएम और सीएम ने संत कबीर के समाधिस्थल का दौरा किया। इस दौरान सीएम को टोपी भेंट की गयी पर सीएम ने टोपी न पहन कर उसको हाथ में लिया।


इस मौके पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने अपने भाषण में संत कबीर के दोहों का जिक्र करते हुए पाखंड और भेदभाव का विरोध करने को कहा। साथ ही सीएम योगी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जमकर प्रशंसा की। यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि मैं आज मगहर की धरती पर देश के यशस्वी प्रधानमंत्री आदरणीय नरेंद्र मोदीजी का स्वागत और अभिनंदन करता हूं।

आप सब जानते हैं कि यह वर्ष मध्यकालीन महान संत कबीरदास जी का निर्वाण वर्ष है। 500 वर्ष पूर्व इस महान संत ने रूढिय़ों के खिलाफ आवाज उठाई थी। उन्होंने कहा था कि हम वासी उस देश के जहां जाति वर्ण कुल नाई। 2014 लोकसभा चुनाव के पूर्व इस देश के अंदर नरेंद्र मोदी ने एक ही नारा दिया था सबका साथ सबका विकास का। प्रधानमंत्री से जब प्रश्न किया गया कि देश का संचालन कैसे होगा तो उन्होंने स्पष्ट कहा कि हमारी सरकार किसी जातिए किसी मतए किसी सम्प्रदाय का नहीं बल्कि इस देश के गांवए गरीब, किसान, नौजवान, महिलाएं और इस देश के 125 करोड़ लोगों के जीवन स्तर को उठाने का कार्य करेगी।

सीएम योगी ने आगे कहा कि आदरणीय प्रधानमंत्री जी की कृपा से हमारी सरकार ने उत्तर प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्र में 8185 लाख आवास और शहरी क्षेत्र में 4112 लाख आवास बनाने का काम किया है। आदरणीय प्रधानमंत्री जी की कृपा से हमारी सरकार ने स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत उत्तर प्रदेश में 72 लाख से अधिक व्यक्तिगत शौचालयों का निर्माण कराया गया। आपने विगत 4 वर्षों के अंदर देखा होगा कि आज भारत के अंदर विश्वास का एक वातावरण पनपा है। आज देश के अंदर हर क्षेत्र में विकास ने एक नई ऊंचाइयां प्राप्त की है।

आज भारत ने दुनिया में सबसे तेज उभरती हुई अर्थव्यवस्था में अपना स्थान बनाया है। रुढिय़ों के विरोध का जिक्र करते हुए सीएम योगी ने कहाए श्प्रधानमंत्रीजी स्वयं गोरखपुर आए। 26 साल से फर्टिलाइजर फैक्ट्री बंद पड़ी थी। उसे शुरू करने का काम उनकी सरकार ने किया। एक मान्यता थी कि काशी में मरने से स्वर्ग मिलता है और मगहर में मरने से नर्क मिलता है।

500 साल पहले संत कबीर ने कहा था. क्या काशी क्या ईश्वर मगहर, राम हृदय बस मोरा। इसलिए हमारे जीवन में रुढि़वादिता विकास में बाधक है। जातिवाद, क्षेत्रवाद, भाषावाद से संकीर्णता आती है। सीएम योगी ने कहा कि श्हर क्षेत्र में नए.नए कार्य करने के लिए मार्गदर्शन हमें प्राप्त हुआ। 8000 करोड़ का पैकेज गन्ना किसानों के लिए घोषित हुआ है।

देश के किसानों की आय में वृद्धि करने के लिए और किसानों को समर्थन मूल्य का डेढ़ गुना दाम मिलेए इस दिशा में काम किया है। उनका यशस्वी और तेजस्वी नेतृत्व देश के अंदर उत्तर प्रदेश को सर्वोत्तम बनाने में कारगर होगा। पीएम मोदी ने इस दौरान 24 करोड़ रुपये की लागत से संत कबीर अकादमीए मगहर का शिलान्यास भी किया।

इससे पहले पीएम मोदी और सीएम योगी आदित्यनाथ ने मगहर स्थित संत कबीर के समाधिस्थल का दौरा किया। यहां कबीर की मजार पर पीएम मोदी ने चादर भी चढ़ाई। वहीं कबीर मठ की ओर से भी पीएम मोदी के स्वागत की खास तैयारियां की गईं। उन्हें खास तुलसी की माला के अलावा झीनी चदरिया, कबीर चरित्र और बीजक उपहार के तौर पर दिया गया। इसके साथ ही मठ की ओर से उन्हें वस्त्र भी पहनाया गया। इस दौरान सीएम योगी को टोपी पहनने के लिए दी गयी, पर उन्होंने टोपी नहीं पहनी।

You May Also Like

English News