Big News: दुबई से मुम्बई पहुंचा श्रीदेवी का शव, आखिरी दर्शन के लिए उमड़ी लाखों की भीड़!

मुम्बई: बालीवुड एक्ट्रेस अभिनेत्री श्रीदेवी के पार्थिव शरीर को अंतिम दर्शन के लिए थोड़ी देर में लोखंडवाला के सेलिब्रेशन स्पोट्र्स क्लब गार्डन नंबर 5 में रखा जा चुका है। दोपहर में उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा। अंतिम दर्शन के बाद दोपहर 2 बजे स्पोट्र्स क्लब से शवयात्रा शुरू होकर विले पार्ले सेवा समाज शवदाह गृह और हिंदू सेमेट्री तक पहुंचेगी। अंत्येष्टि 3.30 बजे की जाएगी।


सेलिब्रेश स्पोट्र्स क्लब के बाहर श्रीदेवी के फैन्स की भीड़ जुटीए बॉलीवुड कलाकारों का भी लगा जमावड़ा।  श्रीदेवी के अंतिम दर्शन के लिए फैन्स की भीड़ जुटी हुई हैए वहीं बॉलीवुड के दिग्गज कलाकार भी सेलिब्रेशन स्पोट्र्स क्लब पहुंच रहे हैं। नम आंखों से दी जा रही है श्रद्धांजलि।

श्रीदेवी की मौत के 72 घंटे उनका पार्थिव शरीर मंगलवार रात 10.45 बजे मुंबई के लोखंडवाला स्थित ग्रीन एकर्स आवास पहुंचा। मुंबई एयरपोर्ट से घर तक लाने में पुलिस प्रशासन को काफी मशक्कत करनी पड़ी क्योंकि सड़क के दोनों ओर प्रशंसकों की भीड़ जुटी हुई थी। उनके घर के बाहर भी देर रात तक प्रशंसकों की भीड़ लगी रही।

बोनी कपूर के छोटे भाई और अभिनेता अनिल कपूर के घर सांत्वना देने के लिए सुपरस्टार शाहरुख खान, रजनीकांत और कमल हासन के अलावा रणवीर सिंह, दीपिका पादुकोण, तब्बू, रेखा, फराह खान, जावेद अख्तर और शबाना आजमी जैसी कई फिल्मी हस्तियां पहुंची थीं। मंगलवार को श्रीदेवी का पार्थिव शरीर रात को मुंबई पहुंचा गया। खंडवाला के ग्रीन एकर्स स्थित इमारत के बाहर सैकड़ों फैन्स श्रीदेवी की एक झलक पाने को कई घंटों से खड़े थे।

पुलिस का जबर्दस्त बंदोबस्त था। मगर कपूर परिवार ने तय किया था कि रात को श्रीदेवी का पार्थिव शरीर केवल उनके परिवारजनों और पारिवारिक मित्रों के साथ ही रहेगा। श्रीदेवी का पार्थिव शरीर मुंबई हवाई अड्डे पर पहुंचते ही उनकी बेटियां जाह्नवी और खुशी अपने चाचा अनिल कपूर के घर से निकल कर अपने घर ग्रीन एकर्स के लिए रवाना हो गईं। उनके साथ सोनम कपूर भी घर के निकलीं।

श्रीदेवी का शरीर पहले ग्रीन एकर्स में कुछ मिनटों के लिए नीचे लॉन में रखा गया। इस दौरान उनके फ्लैट में एक पंडित ने पूजा पाठ की और श्रीदेवी का शरीर घर के अंदर ले जाया गया। उनके शरीर के पास एक दीया जलाया गया। अपनी मां को देखते ही दोनों बेटियां और सोनम फूटफूट कर रो पड़ीं।

जाह्नवी और खुशी के पिता बोनी कपूर भी वहां मौजूद थे। बेटियां देर तक उनसे लिपट कर रोती रहीं। इस बीच जाह्नवी और खुशी के सौतेले भाई अर्जुन ने दोनों बहनों को संभालने का भरसक प्रयास किया और समझाते रहे। वहां पर अनिल कपूर और संजीव कपूर भी मौजूद थे। इनके अलावा उद्योगपति अनिल अंबानी, राजनेता अमर सिंह और टीवी-मीडिया पर्सनैलिटी और संदीप मारवाह भी मौजूद थे।

रात को देर तक कपूर परिवार के सदस्यों का बोनी के घर में आना लगा रहा। इससे पहले अनिल कपूर हवाई अड्डे पर पहुंचे थे और बोनी कपूर को देखते ही उनसे लिपट गए। सबसे छोटे भाई संजय कपूर पिछले तीन दिनों से बोनी के साथ ही थे।

अभिनेत्री श्रीदेवी की मौत से जुड़ीं परिस्थितियों का संदेह खत्म हो गया है। दुबई के सरकारी वकील ने यह कहते हुए परिजनों को शव सौंपने की हरी झंडी दे दी कि अभिनेत्री की मौत दुर्घटनावश बाथटब में गिरने से ही हुई।

You May Also Like

English News