Big News: भाजपा राम की नहीं रावण की उपासक, जानिए किसने यह बात कही!

कोलकता: राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ आरएसएस और विश्व हिन्दू परिषद विहिप के अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण के लिए अभियान तेज करने के बीच पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सोमवार को आरोप लगाया कि भाजपा भगवान राम की नहीं बल्कि रावण की उपासक है। तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ने कहा कि उनकी पार्टी भगवान के नाम पर वोट बटोरने का प्रयास नहीं करती है।


ममता बनर्जी ने यहां एक जनसभा में कहा वे भाजपारावण की पूजा करते हैं, राम की नहीं वे लोगों को बांटने का प्रयास करते हैं। उन्होंने भाजपा पर भगवान राम के नाम पर लोगों को बांटने का प्रयास करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा वे राम की बात करते हैं हम देवी दुर्गा की पूजा करते हैं भगवान राम ने भी दुर्गा पूजा की थी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी पार्टी सर्वधर्म की बात करती है और वह धर्म के आधार पर लोगों में भेदभाव नहीं करती। उन्होंने कहा कि हम वोट हासिल करने के लिए भगवान का नाम नहीं बेचते। ममता ने केन्द्र की भाजपा नीत राजग सरकार पर वित्तीय कुप्रबंधन का आरोप लगाया और दावा किया कि इसकी जनधन योजना जल्द ही सबसे बड़ा घोटाला साबित होगी।

बता दें आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने रविवार को नागपुर में कहा था कि धैर्य का समय खत्म हो चुका है और अगर उच्चतम न्यायालय में तरजीह नहीं मिलती है तो अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण का रास्ता साफ करने के लिए कानून बनाया जाना चाहिए। हजारों भक्त रविवार को विहिप की धर्मसभा में शामिल होने के लिए अयोध्या पहुंचे थे जिसमें मंदिर निर्माण की चर्चा हुई। इसमें एक वरिष्ठ धार्मिक नेता ने कहा कि इसकी तारीखों की घोषणा अगले साल की शुरुआत में की जाएगी। सभार-जी न्यूज

You May Also Like

English News