Birthday Gift: लखनऊ पुलिस ने इस युवक को जन्मदिन पर दिया अनूठा तोहफा, देखिए तस्वीरें!

लखनऊ: शहर की पीजीआई कोतवाली में शुक्रवार की दिन आम दिनों से कुछ अलग था। शुक्रवार के दिन पीजीआई पुलिस ने मानसिक रूप से कमजोर एक युवक की तमन्ना उसके 21 वें जन्मदिन के मौके पर पूरी की। युवक पुलिस वाला बनना चाहता था। युवक को एक दिन के लिए पीजीआई कोतवाली में दारोगा बनाया गया। यह काम एसएसपी लखनऊ के कहने पर पीजीआई पुलिस ने किया। 
पीजीआई के  गैस्ट्रो सर्जरी विभाग में डाक्टर रजनीश कुमार तैनात हैं। उनकी पत्नी भावना सिंह भी पेशे से डाक्टर हैं। द पति का बेटा साहिल सिंह मानसिक रूप से कमजोर ह। डाक्टर रजनीश सिंह ने बताया कि शाहिल टेलीविजन पर पुलिस को देखकर पुलिस मैन बनने की जिद करता रहता था, लेकिन वह लोग उसकी एक जिद पूरी नहीं कर पा रहे थे।
इसको लेकर उन लोगों ने पीजीआई के निदेशक प्रोफेसर राकेश कपूर से बात की। निदेशक ने उनकी मदद के लिए कहा और एसएसपी दीपक कुमार से बात की। एसएसपी ने साहिल की यह वाहिश पूरी करने के लिए हामी भर दी।
शुक्रवार को साहिल का 21 वां जन्मदिन था। जन्मदिन के इस मौके पर साहिल को परिवार के लोग पीजीआई कोतवाली लेकर पहुंचे। कोतवाली में मौजूद कोतवाली प्रभारी ने साहिल को एक दिन के लिए दारोगा बनाने की खुशखबरी सुनाई। यह बात सुन साहिल का चेहरा खुशी से खिल उठा। 
कार्यालय में बैठकर की मीटिंग
साहिल ने पीजीआई कोतवाली में थानेदार की कुर्सी पर बैठ वहां मौजूद सब इंस्पेक्टर के साथ मीटिंग की।  उनसे कई बातों की जानकारी मांगी और अपनी तरफ  से कुछ सुझाव भी दिये। इंस्पेक्टर अरुण कुमार राय ने  साहिल सिंह को पुलिस के कामकाज के तौर तरीकों के बारे में समझाया।
 
कार्यालय का भी किया निरीक्षण
साहिल ने कोतवाली कार्यालय का निरीक्षण किया और वहां की कार्य प्रणाली के बारे में जानने की कोशिश की। उसका जोर इस बात था कि यह  एफआईआर क्या है?  निरीक्षक अरुण कुमार राय ने उसको एफआईआर के बारे में विस्तृत रूप से जानकारी दी। इस बीच साहिल ने कोतवाली तहरीर लेकर आए लोगों से उनकी समस्याओं को समझा उसे तुरंत निपटाने का लिए कहा। 
गश्त पर भी ले जाया गया 
कोतवाली परिसर में कुछ वक्त बिताने के बाद साहिल पुलिस जीप से गश्त के लिए निकला। इस दौरान साहिल सिंह ने लोगों से यातायात नियमों के पालन करने को कहा। सड़क पर गाड़ी खड़ी कर दुकान से सामान खरीदने वालों को ऐसा न करने की नसीहत दी। वहीं बिना टोपी पहने ड्यूटी कर रहे पुलिस वालों को टोपी पहनने को कहा। पीजीआई अस्पताल पहुंच कर निदेशक प्रो राकेश कपूर से उनके कार्यालय में मुलाकात की इस दौरान शाहिल के चेहरे पर खुशी देखने लायक थी।

You May Also Like

English News