BJP नेता गज्जी हत्याकांड: कुछ इस तरह से जेल में मनेगी पूर्व विधायक अमरपाल शर्मा अपनी दिवाली

गाजियाबाद पुलिस को गच्चा देकर कोर्ट में पेश हुआ पूर्व विधायक अमरपाल शर्मा क्लीन शेव के साथ वकील की ड्रेस में था। वह आरडीसी स्थित गेट तक वकीलों की गाड़ी में ही सवार होकर पहुंचा था। इसके बाद वह अधिवक्ताओं के साथ ही कोर्ट तक पहुंचा लेकिन दिन के उजाले में भी भाजपा नेता के हत्यारोपी पूर्व विधायक अमरपाल शर्मा को पुलिस पहचान नहीं पाई।BJP नेता गज्जी हत्याकांड: कुछ इस तरह से जेल में मनेगी पूर्व विधायक अमरपाल शर्मा अपनी दिवाली
 हरियाणवी सिंगर हर्षिता को पहले ही हो गया था मौत का अंदाजा, FB लाइव होकर किया था खुलासा

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मंगलवार सुबह करीब पौने 10 बजे अमरपाल शर्मा अपने अधिवक्ताओं की गाड़ी में बैठकर कचहरी के आरडीसी स्थित गेट पर पहुंचा। इस दौरान अमरपाल शर्मा ने पुलिस से बचने के लिए वकीलों की ड्रेस (काली पेंट और सफेद शर्ट) पहनी थी।
 

जल्दी से कोई पहचान न सके इसके लिए लंबी मूंछ रखने वाले पूर्व विधायक ने क्लीन शेव कराई थी। कोर्ट में सरेंडर के कागज जमा कराने और अमरपाल शर्मा के वहां पहुंचने के बाद ही स्थानीय पुलिस और एलआईयू को इसकी जानकारी हो सकी। उधर, पुलिस सूत्रों की मानें तो अमरपाल शर्मा सोमवार की रात को ही कोर्ट परिसर में पहुंच गया था, जिसके बाद वह कोर्ट की छत पर मौजूद था। वहीं, वकीलों के कहने के बाद वह वहां से नीचे आया और कोर्ट में सरेंडर कर दिया।
 

पुलिसकर्मियों ने थपथपाई पीठ
नाकाम सिद्ध होने के बाद भी गाजियाबाद पुलिसकर्मी अमरपाल शर्मा को लेकर अपनी पीठ थपथपाते हुए नजर आए। पुलिसकर्मियों का कहना था कि भले ही वह उसे गिरफ्तार न कर सके हों लेकिन आखिरकार उन्होंने उसे इतना मजबूर कर दिया कि उसने अपनी मूंछें मुड़वा लीं।
 

अमरपाल के पैर छूने वालों में मची रही होड़
अमरपाल शर्मा के कोर्ट में सरेंडर होने की जानकारी मिलने के बाद हजारों समर्थक सीजेएम कोर्ट के बाहर पहुंच गए। इसमें कई अधिवक्ता भी शामिल थे। वहीं, कोर्ट के अंदर अमरपाल शर्मा के पैर छूने के लिए समर्थकों के साथ अधिवक्ताओं की लाइन लगी रही। हालांकि बाद में पुलिस ने भीड़ को हटवाया और उसे हिरासत में लेकर हवालात ले गई।
 

You May Also Like

English News