Board Eaxams: कल से शुरू होगी बोर्ड की परीक्षाएं, शिक्षा विभाग ने कसी कमर!

लखनऊ: यूपी बोर्ड की हाईस्कूल व इंटरमीडिएट परीक्षा मंगलवार यानि छह फरवरी से शुरू हो जाएगी। यूपी सरकार ने सभी संबंधित अधिकारियों को राज्य भर में नकल पर लगाम कसने का निर्देश दिया है। परीक्षा के लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली गईं हैं। पहली पाली में हाईस्कूल की गृह विज्ञान व इंटरमीडिएट के परीक्षार्थियों के हिन्दी प्रथम प्रश्नपत्र की परीक्षा होगी। वहींए दूसरी पाली में इंटरमीडिएट की सामान्य हिन्दी की परीक्षा होगी।


हाई स्कूल परीक्षा 6 फरवरी से शुरू होगी और 22 फरवरी को समाप्त होगी जबकि इंटरमीडिएट परीक्षाएं 10 मार्च को समाप्त होंगी और मार्कशीट ऑनलाइन उपलब्ध होंगे। इस बार यूपी बोर्ड परीक्षाओं में लगभग 67,29, 540 छात्र बैठेंगे। यूपी बोर्ड की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षा जिन केंद्रों पर हो रही है वहां अब एक कमिटी प्रश्नपत्रों और कॉपियों की सुरक्षा करेगी।

रविवार को डीआईओएस मुकेश कुमार सिंह ने निशातगंज स्थित एमकेएसडी कॉलेजए राजकीय कॉलेज और राजकीय शाहमीना कॉलेज का दौरा किया। इसमें कुछ केंद्रों पर प्रश्नपत्रों को रखने में लापरवाही पाई गई। इसके बाद डीआईओएस ने गाइडलाइन जारी कर दी। अब हर परीक्षा केंद्र पर केंद्र व्यवस्थापक की अध्यक्षता में एक कमिटी का गठन होगा।

प्रश्नपत्रों को सील करने में भी इस कमिटी के हस्ताक्षर होंगे। इस बार परीक्षा में नकल रोकने के लिए शासन काफी गंभीर है। शासन ने साफ कहा है कि नकल रोकने की जिम्मेदारी केंद्र व्यवस्थापक की होगी और किसी केंद्र पर नकल होने पर केंद्र व्यवस्थापक जेल जाएंगे। नकल रोकने के लिए पांच सचल दस्ते बनाए गए हैं। परीक्षा पर नजर रखने के लिए 5 जोनल मजिस्ट्रेटए पांच सचल दल और 13 सेक्टर मजिस्ट्रेट भी बनाए गए हैं।

परीक्षार्थियों को इस बार ऐडमिट कार्ड के साथ अपना आधार कार्ड नंबर भी लाना होगा। इस बार प्रत्येक कमरे में सीसीटीवी कैमरे भी लगाए गए हैं।

साथ ही सभी परीक्षा केंद्रों को वॉट्सअप ग्रुप से जोड़ा गया हैए जिस पर उपस्थित छात्रों की संख्या से लेकर अन्य जानकारियां भी अपडेट करनी होंगी। गाइडलाइन में ये भी निर्देश जारी किया गया है कि जिस कक्ष में प्रश्नपत्र और कॉपियां रखी जाएंगी वहां 24 घंटे गार्ड तैनात रहेंगे।

परीक्षा कक्षों में सीसीटीवी की तरफ परीक्षार्थियों का मुंह होगा। जिस अलमारी में प्रश्नपत्र रखे जाएंगे उसे खोलने और बंद करने का पूरा ब्योरा रजिस्टर में दर्ज किया जाएगा। साथ ही अलमारी के लॉक को सील भी किया जाएगा जिस पर जिम्मेदारों के हस्ताक्षर होंगे।

You May Also Like

English News