Breaking: पुलिस का अभ्यास छात्राओं पर पड़ा भारी, जानिए कैसे?

बिजनौर: उत्तर प्रदेश के बिजनौर जनपद में आज सुबह पुलिस को दंगा नियंत्रण अभ्यास करना मुसीबत का सबब बन गया। हुआ यूं कि दंगा नियंत्रण ड्रील के दौरान छोड़े गए आंसू गैस के गोले से निकली गैंस पास में ही स्थित स्कूल तक पहुंच गयी। स्कूल में मौजूद छात्राओं को आंसू गैस की वजह से काफी दिक्कत का सामान करना पड़ा।


बिजनौर में शहर के बीच में पुलिस लाइन में आज पुलिस का अभ्यास सत्र छात्र-छात्राओं पर भारी पड़ गया। इनके अभ्यास के दौरान आंसू गैस के गोले दगने से निकली गैस तेज हवा के कारण स्कूलों तक पहुंच गई। जिसके प्रभाव से सैकड़ों बच्चों की आंखों से आंसू निकलने लगे।

पुलिस लाइन से सटे राजकीय इंटर कॉलेज जीआइसी व राजकीय गल्र्स इंटर कॉलेज जीजीआइसी में गैस फैलने से छात्र-छात्राओं में अफरा-.तफरी मच गई। सांस लेना दूभर हो गया। आंख में मिर्ची, खांसी जैसी परेशानी से भगदड़ मच गई। इसके बाद जीआइसी के छात्रों की छुट्टी कर दी गई।

जीजीआइसी में परीक्षा होने के कारण छुट्टी नहीं हुई। सूचना पर पुलिस भी आ गई। काफी देर बाद स्थिति सामान्य हुई। पुलिस लाइन के प्रतिसार निरीक्षक गिरिराज सिंह का कहना है यहां आपातकालीन स्थिति से निपटने के लिए आए दिन अभ्यास होता है।

सुबह कालेज से दूसरी तरफ अभ्यास किया गया था। संभव है कि हवा के साथ गैस कालेज की तरफ चली गई हो। इससे पहले ऐसा कभी नहीं हुआ। भविष्य में इसका ख्याल रखा जाएगा।

 

You May Also Like

English News