Breaking: पूर्व सीएम अखिलेश का सेक्रेटरी बन सूरत के कारोबारी को लगाया 60 लाख का चूना!

लखनऊ: गुजरात के रहने वाले एक कारोबारी को उत्तर प्रदेश में तेल डिपो के कारोबार का झांसा देकर एक दम्पति और उसके बेटे पर 60 लाख रुपये ठगी करने का आरोप लगा है। आरोपी दम्पति ने अपने बेटे को पूर्व सीएम अखिलेश यादव का सेक्रेटरी बताते हुए फर्जी दस्तावेज दिखाकर अपने जाल में फंसाया था। ठगी का शिकार हुए कारोबारी ने अब इस संबंध में हजरतगंज कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज करायी है।


गुजरात के सूरत निवासी संजय राय कारोबारी हैं। उनका कहना है कि वर्ष 2013 में आजमगढ़ जनपद निवासी अखिलेश राय उनसे आकर मिला। अखिलेश राय अपने परिवार के साथ मौजूदा समय में कोलकता में रहता है। उसका एक दफ्तर हजरतगंज के शालीमार बिल्डिंग में था। अखिलेश राय ने उस वक्त संजय राय को बताया कि उसका बेटा आकाश पूर्व सीएम अखिलेश यादव का सेक्रेटरी है।

अखिलेश राय ने बताया कि बेटे की वजह से सरकार से उनको उत्तर प्रदेश के अलग-अलग जनपदों में मिट्टी के तेल के डिपो खोलने का काम उनकी कम्पनी को मिला है। अखिलेश राय ने बताया कि धन की कमी की वजह से वह यह काम शुरू नहीं कर पा रहे हैं। इसके बाद अखिलेश राय, उनकी पत्नी सुमन राय और बेटे आकाश ने संजय राय को लखनऊ बुलवाया।

उनकी होटल क्लार्क में तीनों लोगों से मुलाकात हुई। तीनों ने तेल डिपो बनाने के संबंध में कुछ सरकारी दस्तावेज भी दिखाये और बड़े लाभ की बात कही। तीनों जालसाजों की बातों में संजय राय आ गये। इसके बाद रुपये की लेनदेन का खेल शुरू हुआ। पीडि़त संजय राय का कहना है कि दो साल के अंदर उसने अखिलेश राय, उनकी पत्नी व बेटे को 60 लाख रुपये दिये। इतनी बड़ी रकम देने के बावजूद भी उन लोगों ने तेल डिपो के संबंध में कोई काम नहीं शुरू किया।

इसके बाद वर्ष 2016 में अखिलेश ने संजय राय को फिर लखनऊ बुलाया और अनुबंध के पेपर तैयार कराये और जल्द ही काम शुरू करने का आश्वासन दिया। इसके बाद संजय ने कई बार उन लोगों को पैसे और काम के संबंध में फोन किया पर कोई सही जवाब नहीं मिल सका। इसके बाद आरोपियों ने संयज राय का फोन ही उठाना बंद कर दिया।

शक होने पर वह आरोपियों के शालीमार भवन स्थित कम्पनी के दफ्तर पहुंचा तो वहां कोई भी नहीं मिला। आसपास के लोगों ने दम्पति और उनके बेटे को ठग होने की बात बतायी। यह बात पता चलने पर संजय राय के पैरों तेल जमीन खिसक गयी। पीडि़त ने इस बात की शिकायत अब पुलिस के आलाधिकारियों से की। अब इस मामले में अखिलेश राय, उनकी पत्नी सुमन और बेटे आकाश के खिलाफ हजरतगंज कोतवाली में अमानत में खयानात, धोखाधड़ी और जालसाजी की रिपोर्ट दर्ज करायी है।

You May Also Like

English News