Breaking: सेल्फी लेना पड़ा महंगा, तीन सगी बहने यमुना में डूबीं!

लखनऊ: सेल्फी लेने का शौक कभी-कभी जानलेवा भी साबित हो सकता है। ऐसी ही एक घटना घटी उत्तर प्रदेश की ताजनगर आगरा में। यहां रविवार को यमुना घाट पर सेल्फी लेने के दौरान तीन सगी बहनें डूब गईं। घाट पर मौजूद तैराकों ने दो बहनों को सकुशल बाहर निकाल लिया। सबसे छोटी बहन का पता नहीं लग सका।


हादसा दोपहर करीब दो बजे का है। गांव रूदमुली निवासी शुसेंद्र भदौरिया की बेटी बाला, दिव्या और शिवा स्कूटी से बटेश्वर तीर्थ पहुंची थी। उन्होंने वहां मंदिर में दर्शन किए। उसके बाद गोपालेश्वर घाट पहुंचीं। वहां तीनों बहनें एक पत्थर पर खड़े होकर मोबाइल से सेल्फी लेने लगीं।

इसी दौरान सबसे छोटी बहन शिवा का पैर फिसला और वह यमुना में गिर पड़ी। उसे बचाने के लिए दिव्या और बाला भी पानी में कूद गईं। तीनों बहनें गहरे पानी में फंस गयी और डूबने लगी। चीख पुकार सुन आसपास के लोग मदद के लिए पहुंच गये। स्थानीय तैराक बंटू, सुनील यादव, धर्मेंद्रए सुशांत आदि ने तीनों बहनों को बचाने के लिए यमुना में छलांग लगा दी।

बाला और दिव्या को बचा लिया पर शिवा का कोई सुराग नहीं मिला। सूचना पर गांव से घरवाले भी मौके पर आ गए। बटेश्वर पुलिस चौकी पर सूचना दी गई। पुलिस ने गोताखोर बुलाए। शिवा की तलाश शुरू की गई।देर शाम तक शिवा का सुराग नहीं लगा। बीए की छात्रा है शिवा बाह। बाला बाह कस्बे के एनडी जैन पब्लिक स्कूल और दिव्या बाह पब्लिक स्कूल में शिक्षिकाएं हैं। शिवा बीए की छात्रा है।

You May Also Like

English News