BSP के धुर विरोधी रामगोविंद चौधरी ने मायावती का ऐसे किया स्वागत, तो देखते रह गए लोग

करीब 28 साल बाद गोरखपुर में कमल को कुम्हालते देख सपा और बसपा में भारी खुशी है। इसी बीच बसपा सुप्रीमो मायावती और विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी ने एक-दूसरे से मुलाकात की। दोनों ही नेता लालजी वर्मा के पुत्र विकास वर्मा के निधन पर उनके आवास पर सांत्वना व्यक्त करने पहुंचे थे। श्रद्धांजलि देने के बाद मायावती ने अलग से रामगोविंद चौधरी को बुलाया।  BSP के धुर विरोधी रामगोविंद चौधरी ने मायावती का ऐसे किया स्वागत,  तो देखते रह गए लोगरामगोविंद आए तो मायावती ने हाथ जोड़ा, वहीं चौधरी ने करीब आधा झुककर मायावती का अभिवादन किया। हमेशा बसपा का घोर विरोध करने वाले चौधरी जब मायावती के सामने इतना झुके तो ये चर्चा का विषय बन गया। अपने गठबंधन की जीत की खुशी दोनों ही नेताओं के चेहरे पर साफ दिखी। कुछ देर दोनों ने बात की फिर अपने-अपने काफिले के साथ रवाना हो गए। 

बता दें गोरखपुर में सपा के प्रवीण निषाद आगे चल रहे हैं जबकि फूलपुर में भी सपा कैंडिडेट नागेन्द्र सिंह पटेल की बढ़त जारी है। गोरखपुर और फूलपुर में सपा की भारी वोटों से बढ़त ने ये साफ संकेत दे दिया है कि इस बार जनता भी साइकिल पर सवार हो गई है। 

You May Also Like

English News