CBSE 10th Result 2018: 10वीं क्लास में ज्यादातर छात्र हो गए पास; ये है कारण

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने मंगलवार दोपहर को 10वीं की परीक्षा के नतीजे जारी कर दिए। छात्र-छात्राएं नतीजे इन सीबीएसई की आधिकारिक वेबसाइट www.cbseresults.nic.in पर देख सकते हैं। सीबीएसई के 2017-2018 के लिए विशेष नियम के तहत 10वीं की परीक्षा देने वाले ज्यादातर छात्र-छात्राएं पास हुए हैं। दरअसल, सीबीएसई ने सिर्फ इस साल के लिए 10वीं कक्षा के विद्यार्थियों के पास होने का मानदंड बदल दिया था। इस बार आंतरिक व बोर्ड परीक्षा के मूल्यांकन को मिलाकर 33 फीसद अंक प्राप्त करने वाले विद्यार्थी भी पास हो गए हैं।ऐसे देखें अपना परीक्षा परिणाम छात्र-छात्राएं अपना 10वीं का परीक्षा परिणाम देखने के लिए सबसे पहले www.google.com पर जाएं। इसके बाद CBSE results या CBSE class 10 results टाइप कर सर्च करें। इस प्रक्रिया में गूगल के सर्च रिजल्‍ट पेज पर रिजल्‍ट सर्च विंडो सामने नजर आएगी। इसके बाद अपना रोल नंबर और जन्‍म तारीख डालें। सारी जानकारी फीड करने के बाद आपका परीक्षा परिणाम आपके सामने होगा। यहां पर बता दें कि परिणाम देखने के लिए  रॉल नंबर, स्‍कूल कोड और जन्‍म तारीख को रजिस्‍टर करना अनिवार्य होगा, ऐसे में ये चीजें आप अपने पास सहेज कर रखें।

पांचों विषयों पर लागू हुआ सीबीएसई का यह नियम
16 लाख परीक्षार्थियों के लिए राहत की बात यह रही कि यह नियम पांचों मुख्य विषयों के लिए लागू हुआ। अगर किसी विद्यार्थी ने अतिरिक्त विषय के तौर पर छठा या सातवां विषय भी लिया है, तो उन विषयों के पास होने का मानदंड भी अन्य पांचों विषयों की तरह ही रहा।

अंग्रेजी विषय में मिले दो अतिरिक्त नंबर
इसी के साथ एक और राहत भरी खबर रही। इस साल 10वीं के अंग्रेजी पेपर में टाइपिंग की गलती की वजह से उन सभी छात्र-छात्राओं को अतिरिक्त दो नंबर दिए गए, जिन्‍होंने इस विषय की परीक्षा दी थी।

सीबीएसई ने आसान कर दिया 10वीं के छात्रों का पास होना
यहां पर बता दें कि पहले विद्यार्थियों को पास होने के लिए आंतरिक व बोर्ड परीक्षा के मूल्यांकन में अलग-अलग 33 फीसद अंक प्राप्त करने होते थे। शैक्षणिक सत्र 2017-18 की 10वीं की बोर्ड परीक्षा में विभिन्न मूल्यांकन पृष्ठभूमि से आए परीक्षार्थियों की परिस्थतियों को देखते हुए सीबीएसई की परीक्षा समिति ने 16 फरवरी को हुई बैठक में यह फैसला लिया था। हालांकि, पास होने का यह मानदंड सिर्फ इसी सत्र की बोर्ड परीक्षा के लिए लागू हुआ, अगले साल लागू नहीं होगा। 

इस तरह आप आसानी से हो जाएंगे पास
सीबीएसई अध्यक्ष अनिता करवल द्वारा जारी नोटिफिकेशन के अनुसार, वर्ष 2018 में परीक्षा दे रहे 10वीं के विद्यार्थियों के लिए यह बदलाव किया गया था। इसके तहत 20 अंक वाली आंतरिक परीक्षा व 80 अंक वाली विषय परीक्षा के अंकों को मिलाकर 33 फीसद अंक प्राप्त करने वाले विद्यार्थी पास माने जा रहे हैं।

ऐसे देखें अपना परीक्षा परिणाम
छात्र-छात्राएं अपना 10वीं का परीक्षा परिणाम देखने के लिए सबसे पहले www.google.com पर जाएं। इसके बाद CBSE results या CBSE class 10 results टाइप कर सर्च करें। इस प्रक्रिया में गूगल के सर्च रिजल्‍ट पेज पर रिजल्‍ट सर्च विंडो सामने नजर आएगी। इसके बाद अपना रोल नंबर और जन्‍म तारीख डालें। सारी जानकारी फीड करने के बाद आपका परीक्षा परिणाम आपके सामने होगा। यहां पर बता दें कि परिणाम देखने के लिए  रॉल नंबर, स्‍कूल कोड और जन्‍म तारीख को रजिस्‍टर करना अनिवार्य होगा, ऐसे में ये चीजें आप अपने पास सहेज कर रखें।

 
 

You May Also Like

English News