महिला आयोग ने 8 साल की बच्ची को पेड़ से जंजीर में बंधा पाया

दिल्ली महिला आयोग (डीसीडब्ल्यू) ने शुक्रवार को कहा कि वृहस्पतिवार की रात एक गरीब परिवार की 8 साल की बच्ची को एक पेड़ में जंजीर से बंधा हुआ देखा गया. उस वक्त आयोग की अध्यक्ष यहां एक मेट्रो स्टेशन के पास से भिक्षावृत्ति से मुक्त कराई गई दो लड़कियों से मिलने गई थी.

एक बयान में कहा गया है कि छोटी लड़कियों को मुक्त कराने के बाद आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने उनके माता पिता की पहचान की जो आनंद विहार मेट्रो स्टेशन के पास एक पटरी पर रहते हैं. उनके परिवार में 11 सदस्य हैं जिनमें 9 बच्चे हैं. इसमे कहा गया है कि मां गर्भवती है और पिता शराब के नशे में था.

प्रद्युम्न मर्डर केस: कंडक्टर अशोक का बयान, बाथरूम में देखा था दो लड़के

बयान में कहा गया है कि आयोग ने दौरे के दौरान देखा कि मुक्त कराई गई लड़कियों की बहन एक पेड़ में जंजीर से बांधी हुई है. माता पिता ने दावा किया कि उसे नशीले पदार्थों की लत है और इसी वजह से उन्होंने उसे बांध रखा है. इसमें बताया कि पुलिस और माता पिता की सहमति से बहनों को एक आश्रय गृह ले जाया गया.

You May Also Like

English News