#ChhattisgarhElections: छत्तीसगढ़ में सुबह 10 बजे तक जानिए कितने प्रतिशत वोट पड़े, सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त!

रायपुर; #ChhattisgarhElections छत्तीसगढ़ में पहले चरण के लिए 10 सीटों पर सुबह 7 बजे सेे वोटिंग जारी है। वहीं आठ सीटों पर सुबह 8 से मतदान शुरू हुआ। इसमें छत्तीसगढ़ के मतदाता नक्सलियों को करारा जवाब देते दिख रहे हैं। छत्तीसगढ़ की 18 विधानसभा सीटों पर सोमवार को हो रहे मतदान में सुबह 10 बजे तक 10.7 फीसदी वोट पड़े।


सुबह नौ बजे तक नक्सल प्रभावित दंतेवाड़ा में 10 फीसदी तो कांकेर में 13 फीसदी मतदान हुआ। वहीं सुकमा के भेज्जी में पहली बार 100 से अधिक वोट पड़े। 18 सीटों के लिए होने वाले चुनावों में मोहला मानपुर, अंतागढ़, भानुप्रतापपुर, कांकेर, केशकाल, कोंडागांव, नारायणपुर, बीजापुरए कोंटा क्षेत्र सबसे ज्यादा नक्सल प्रभावित है। इसलिए यहां पर सुरक्षा के पूरे इंतजाम किए गए हैं और दोपहर 3 बजे तक ही मतदान होगा। छत्तीसगढ़ में दूसरे चरण के लिए 20 नवंबर को वोट डाले जाएंगे।

वहीं चुनाव आयोग ने जानकारी दी है कि छत्तीसगढ़ के कुल 4336 मतदान केंद्रों में से 53 पर तकनीकी खामी के चलते वोटिंग देर से शुरू हुई हालांकि सभी 100 फीसदी मतदान केंद्रों पर सामान्य रूप से मतदान हो रहा है। इनके बाहर लोगों की लंबी कतारें लगी हैं। कोंडागांव जिले के दो विधानसभा कोंडागांव केशकाल से लगभग 40 ईवीएम मशीन में तकनीकी खराबी के चलते कई जगह मतदान में देरी हुई। 15 प्रतिशत मशीनों में खराबी की बात सामने आई है। केशकाल में 16, विश्रामपुर में 10 और फरसगांव 11 के साथ ही कोंडागांव के कई केंद्रों से शिकायत आ रही है।

बताया जा रहा है मतदान केंद्रों पर तैनात मतदान कर्मचारियों को ईवीएम को समझने में पेरशानी हो रही है। राजनांदगांव के सांगवरी स्थित कमला कॉलेज में बनाए गए पिंक पोलिंग बूथ में सुबह करीब आठ बजे ईवीएम में तकनीकी खराबी की वजह से वोटिंग कुछ देर के लिए रुक गई थी हालांकि खराबी को ठीक करके मतदान दोबारा शुरू हो गया है। छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव में मतदाताओं के बीच भी उत्साह देखने को मिल रहा है। नक्सल प्रभावित सुकमा के दोरनापल के एक मतदान केंद्र में 100 वर्षीय बुजुर्ग महिला भी खुद चलकर मतदान करने आईं।

इससे वहां मौजूद अन्य मतदाताओं में भी उत्साह बढ़ गया। उधरए वोटिंग के पहले सुबह 5.30 बजे नक्?सलियों ने दंतेवाड़ा के कातेकल्यान ब्लॉक के तुमकपाल कैंप के पास आईईडी से ब्लास्ट किया। हालांकि इस ब्लास्ट में कोई भी हताहत नहीं हुआ है। घटना की जानकारी देते एंटी नक्सल ऑपरेशंस के एआईजी देवनाथ ने कहा कि नक्सलियों ने सोमवार सुबह करीब 5.30 बजे सुरक्षा बलों को निशाना बनाने के मकसद से तुमकपल.नयानर रोड पर आईईडी ब्लास्ट किया है। इस दौरान पोलिंग पार्टी और सुरक्षा बलों को कोई नुकसान नहीं हुआ है।

ब्लास्ट के बाद पोलिंग पार्टी को सुरक्षित नयानर पोलिंग बूथ संख्या 183 पर पहुंचाया गया। मुख्य चुनाव आयुक्त ओपी रावत ने छत्तीसगढ़ में सोमवार को हो रहे पहले चरण के चुनाव को लेकर जानकारी दी है कि इन चुनावों के लिए करीब 900 मतदानकर्मियों को मतदान केंद्रों तक हेलिकॉप्टर से सुरक्षित पहुंचाया गया है। साथ ही करीब 16500 मतदानकर्मियों को सड़क के रास्ते पहुंचाया गया है।

उनका मानना है कि शांतिपूर्ण चुनाव कराने के लिए तैयारियां ठीक हैं। पहले चरण में 18 विधानसभा क्षेत्र में मुख्यमंत्री रमन सिंह समेत 190 प्रत्याशी मुकाबले में हैं। 8 विधानसभा में सुबह 8 से शाम 5 बजे तक मतदान होगा। राज्य के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी सुब्रत साहू ने रविवार को बताया था कि राज्य में शांतिपूर्ण मतदान के लिए सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं।

राज्य में सुरक्षा बल के लगभग सवा लाख जवानों को तैनात किया गया है। उन्होंने बताया कि राज्य में चुनाव कार्य के लिए केंद्र से लगभग 65 हजार जवानों को यहां भेजा गया है। जिनमें अर्धसैनिक बल और पुलिस बल के जवान शामिल हैं। क्षेत्र में सुरक्षा बल के जवान लगातार गश्त में हैं तथा पड़ोसी राज्यों की पुलिस के साथ भी बेहतर तालमेल बनाकर अभियान चलाया जा रहा है। क्षेत्र में संदिग्ध गतिविधियों पर नजर रखने के लिए मोबाइल चेक पोस्ट भी बनाए गए हैं।

You May Also Like

English News