CM आदित्यनाथ का बड़ा ऐलान: यूपी में सिखों के विवाह पंजीकरण को लेकर की गई नई व्यवस्था

यूपी में सिखों के विवाह पंजीकरण को लेकर एक नई व्यवस्था लागू होने जा रही है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस पर बड़ा ऐलान किया है, जान भी जानिए। CM आदित्यनाथ का बड़ा ऐलान: यूपी में सिखों के विवाह पंजीकरण को लेकर की गई नई व्यवस्थासांसद-विधायकों को करना होगा संपत्ति का बड़ा खुलासा, जानिए कैबिनेट के ऐसे सभी फैसले…

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि राज्य में आनंद कारज मैरिज एक्ट के अंतर्गत सिखों के लिए विवाह की रजिस्ट्रेशन जल्द शुरू कर दी जाएगी। यह भरोसा उन्होंने दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के जनरल सचिव मनजिंदर सिंह सिरसा को दिया, जो शुक्रवार को उनसे मिलने पहुंचे थे। सिरसा ने योगी आदित्यनाथ के साथ मुलाकात के दौरान उन्हें इस मामले पर पत्र भी सौंपा।  

सिरसा ने मुख्यमंत्री को बताया कि यह एक्ट यूपी संसद की तरफ से पास हो चुका है। अभी तक यूपी में सिखों को विवाह पंजीकरण को लेकर काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। हरियाणा और पंजाब इस एक्ट को पहले ही लागू कर चुके हैं, जबकि दिल्ली एक्ट लागू करने के लिए प्रक्रिया पूरी करने के बिल्कुल नजदीक पहुंचा चुका है। ऐसे में यूपी में इसे जल्दी से जल्दी लागू किया जाना चाहिए। 

मुख्यमंत्री को राज्य में एक्ट लागू करने की अपील करते सिरसा ने उन्हें बताया कि राज्य की सिख आबादी चाहती है कि उनके विवाहों की रजिस्ट्रेशन एक्ट के अंतर्गत हो परंतु इसके लागू न होने के कारण वह पुरानी व्यवस्था के अनुसार ही विवाहों की रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए मजबूर हैं।

​उन्होंने बताया कि यदि एक्ट जल्दी लागू कर दिया जाए तो सिख जोड़े अपनी धार्मिक मर्यादा के अनुसार अपने विवाहों की रजिस्ट्रेशन करवा सकेंगे। वहीं मुख्यमंत्री ने सिरसा को भरोसा दिलाया कि एक्ट जल्दी ही लागू किया जाएगा और वह इस प्रक्रिया को जल्दी से जल्दी पूरा करवाएंगे।

You May Also Like

English News