CM नीतीश कुमार ने जदयू नेताओं को लगाई फटकार, कहा- जरूर शामिल होगे RJD की रैली में…

मुख्यमंत्री और जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार ने साफ कहा है कि एनडीए में उनके जाने का लोग कयास लगाना छोड़ दें। महागठबंधन मजबूत है और रहेगा। उन्होंने जदयू नेताओं को फटकार भी लगाई और कहा कि महागठबंधन और राजद की रैली पर कोई बयान नहीं दें। यह भी कहा कि राजद की रैली में मुझे बुलावा आया तो मैं जरूर जाऊंगा। वे जदयू की राज्य कार्यकारिणी की बैठक को संबोधित कर रहे थे।CM नीतीश कुमार ने जदयू नेताओं को लगाई फटकार, कहा-  जरूर शामिल होगे RJD की रैली में...अभी अभी: सिविल सर्विस की तैयारी कर रही युवती ने की खुदखुशी, डायरी में लिखी चौंकाने वाली…

कार्यकारिणी की बैठक रविवार को पार्टी प्रदेश कार्यालय में ढाई घंटे से अधिक समय तक चली। इसकी अध्यक्षता प्रदेश अध्यक्ष बशिष्ठ नारायण सिंह ने की। बैठक के बाद पार्टी के प्रदेश मुख्य प्रवक्ता संजय सिंह ने संवाददाता सम्मेलन में इसकी पुष्टि की कि 27 अगस्त को होने वाली राजद की रैली में मुख्यमंत्री को बुलावा आता है तो वे निश्चित जाएंगे।  

हमने भाजपा को समर्थन नहीं दिया

मुख्यमंत्री ने कहा कि राष्ट्रपति चुनाव में हमने भाजपा को समर्थन नहीं दिया है। हमने व्यक्ति विशेष के रूप में रामनाथ कोविंद को समर्थन दिया है। उन्होंने बिहार का राज्यपाल रहते हुए बेहतर काम किया है। हमेशा राज्य सरकार के साथ उनका बेहतर संबंध रहा। विपक्षी दलों के राष्ट्रपति उम्मीदवार घोषित होने के पहले रामनाथ कोविंद के नाम की घोषणा हो गई थी। हमने उन्हें बधाई दी और अपना मत कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और राजद प्रमुख लालू प्रसाद को बता दिया था। एनडीए में रहते हुए भी हमने यूपीए के उम्मीदवार प्रणब मुखर्जी को समर्थन दिया था। जीएसटी का समर्थन हमने यूपीए सरकार के समय भी किया था। हमने नोटबंदी का भी समर्थन किया। देश हित में जो हो, वही फैसला हम लेते हैं। 

बड़ी खबर: पीएम मोदी ने दिया बड़ा बयान, कहा- राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने मुझे पिता की तरह दिखाया रास्ता…

घूमने वाली गाय को भाजपा क्यों नहीं पालती

मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा गाय की बात करती है। बिहार से अधिक गाय उत्तर प्रदेश में सड़कों पर घूमती हैं। सड़क पर घूमने वाली गायों को भाजपा क्यों नहीं पालती। भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि आजादी की लड़ाई में जिन विचारधाराओं की कोई भूमिका नहीं थी, आज वही देश की सत्ता पर काबिज हैं।

कांग्रेस को दिया जवाब

कार्यकारिणी की बैठक में मुख्यमंत्री ने कांग्रेस को भी दो टूक जवाब दिया। कहा कि हम सिद्धांत नहीं बदलते। सवालिया लहजे में कहा कि क्या कांग्रेस गांधी-नेहरू के सिद्धांत पर चल रही है। आजादी के बाद भी गांधी के सिद्धांतों पर कांग्रेस चली थी क्या। कांग्रेस को उन्होंने सावधान भी किया कि जहां उसे भिड़ना चाहिए, उसे छोड़ वह कहीं और भिड़ रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने हमेशा गठबंधन धर्म का पालन किया है। हम अपने सिद्धांतों पर चलते हैं। हमारा एक सिद्धांत है और हम उस पर अटल हैं। हम किसी के पिछलग्गू नहीं हैं। गौरतलब है कि कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने राष्ट्रपति उम्मीदवार पर फैसले के संदर्भ में टिप्पणी की थी कि नीतीश कुमार दो सिद्धांतों पर चल रहे हैं। 

You May Also Like

English News