CM योगी आदित्यनाथ की सुरक्षा में हुई बड़ी चूक, फ्लीट के आगे लेट गया युवक

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सुरक्षा में चूक शनिवार को एक बार फिर देखने को मिली। हजरतगंज में सुरक्षा घेरा तोड़कर एक युवक लोकभवन में आयोजित एक कार्यक्रम में जा रहे मुख्यमंत्री की गाड़ी के आगे लेट गया। हालांकि सजग सुरक्षा कर्मियों ने फौरन उसे हिरासत में ले लिया। पुलिस का कहना है कि युवक ने सोनभद्र में अवैध तरीके से दिए जा रहे खनन लाइसेंस पर रोक लगवाने के लिए यह तरीका अपनाया था।CM योगी आदित्यनाथ की सुरक्षा में हुई बड़ी चूक, फ्लीट के आगे लेट गया युवक

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शनिवार सुबह लोक भवन के लिए निकले ही थे कि अचानक एक युवक उनकी गाड़ी के सामने आकर लेट गया। सुरक्षाकर्मियों ने तत्काल युवक को रास्ते हटाया और हिरासत में ले लिया। देर शाम दारुलशफा चौकी प्रभारी की तहरीर पर केस दर्ज कर उसे जेल भेज दिया गया। एएसपी पूर्वी सर्वेश कुमार मिश्रा ने बताया कि पकड़ा गया युवक श्याम जी मिश्रा सोनभद्र के ओबरा का रहने वाला है। वह खनन के अवैध लाइसेंस के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहा था। पुलिस के मुताबिक श्याम जी मिश्रा को एक साल पहले ही भाजपा से निकाला गया है। युवक ने सोनभद्र के जिलाध्यक्ष पर कई संगीन आरोप लगाए।

इंस्पेक्टर हजरतगंज आनंद शाही ने बताया कि श्याम जी मिश्रा पावर प्लांट में मजदूरों की आपूर्ति करता है। उसके पिता अशोक कुमार मिश्रा बिजली विभाग में बाबू हैं। आरोपी युवक ने सोनभद्र के भाजपा जिलाध्यक्ष पर आरोप लगाया कि वह अवैध खनन में शामिल लोगों की मदद कर रहे हैं। इसके खिलाफ वह कई बार प्रदर्शन कर चुका है। इसी वजह से उसे पार्टी से भी निकाल दिया गया था। वह वाराणसी में प्रधानमंत्री के कैम्प कार्यालय पर भी एक बार अनशन कर चुका है। कुछ दिन पहले उसने लखनऊ में लक्ष्मण मेला मैदान और 1090 चौराहे पर भी अनशन किया था।

2200 का परमिशन 14 हजार में
श्याम जी मिश्रा ने सोनभद्र जिला प्रशासन पर आरोप लगाया कि वह अवैध खनन को बढ़ावा दे रहा है। अधिकारी अवैध कारोबार करने वालों को 2200 रुपये में मिलने वाली अनुमति 14 हजार रुपये लेकर दे रहे हैं। इस पर रोक लगाने के लिए वह कई बार मुख्यमंत्री से मिलने की कोशिश कर चुका है। वह शनिवार को भी मुख्यमंत्री आवास गया था, लेकिन सीएम से मिलने नहीं दिया गया। इसके बाद वह काफिले के आगे कूद गया। 

You May Also Like

English News