अभी अभी: सीएम योगी ने लिए कई बड़े फैसले, जिन्हें सुनकर उड़ जायेगी सबकी नीद…

उत्तर-प्रदेश की सत्ता संभालने के एक हफ्ते के अंदर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कई फैसले लिए।जिसकी मिली-जुली प्रतिक्रिया सामने आई। जिसमें अवैध बूचडखानों की बंदी और एंटी रोमियो स्क्वाड का निर्माण पिछले सबसे ज्यादा सुर्खियों में बना हुआ है। सरकारी दफ्तरों में समय पर आने के लिए बायोमेट्रिक सिस्टम लगाने और अफसरों और मंत्रियों को सुबह 10 बजे तक ऑफिस पहुंचने के निर्देश दिए और ऑफिस में पान-मसाला और पॉलिथीन के इस्तेमाल पर बैन लगाने की बात कही जो सराहनीय कदम है। मानसरोवर तीर्थ-यात्रियों का अनुदान दुगना किया गया जो 50,000 रुपये से बढ़ कर 1 लाख रुपये कर हो गया है। इसके साथ ही तीर्थ-यात्रियों के लिए नई-दिल्ली के पास मानसरोवर भवन बनाने के निर्देश दिए गए हैं। लोक निर्माण विभाग को 15 जून तक प्रदेश की सड़कों को गड्ढा-मुक्त करने के निर्देश दिया गए तथा अपराधिक पृष्ठभूमि वाले ठेकेदारों की जगह नए ठेकेदारों को लेने का निर्देश दिया है। 

योगी ने ऑफिस के कामों की फाइल घर ना ले जाकर ऑफिस के घंटो में ही निपटाने को कहा है। उन्होंने हर पुलिस स्टेशन के रिसेप्शन पर 1 महिला और 1 पुरुष पुलिस की व्यवस्था की है और थाने में पीने के साफ पानी और साथ ही हर विभाग में नागरिक चार्टर का निर्माण करने के निर्देश दिए हैं। सरकारी दफ्तरों में CCTV कैमरे लगाने को कहा गया है। उन्होंने राजनेताओं और सरकारी अफसरों को 15 दिनों के अंदर अपनी संपत्ति का ब्यौरा देने का आदेश भी दिया है। 
योगी सरकार ने नवरात्रि, रामनवमी और शक्तिपीठ पर 9 दिन के कार्यक्रम के दौरान दिन-भर बिजली की सप्लाई देने का आदेश दिया और अफसरों को हर गांव में बिजली देने की योजना बनाने को कहा गया है। उत्तर प्रदेश के इकलौते मुस्लिम मंत्री ने अमीर मुसलमानों से हज की सब्सिडी छोड़ने की अपील की। उन्होंने अपराधियों को साफ़ शब्दों में कहा है कि सत्ता के संरक्षण में पलने वाले गुंडे माफ़िया यूपी छोड़कर चलें जाएं, वरना अंजाम भुगतने को तैयार रहें।
liveindia.live से साभार…

You May Also Like

English News