CM योगी दिल्ली में राष्ट्रपति कोविंद और PM मोदी से मिलकर दे सकते हैं सरकार की रिपोर्ट…..

सीएम योगी आदित्यनाथ रविवार को दिल्ली में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलेंगे। सीएम योगी अपने साथ यूपी सरकार के कामकाज का ब्योरा भी लेकर जा रहे हैं। वह पीएम के सामने अब तक के किए गए यूपी सरकार के कामकाज का पूरा ब्योरा सौपेंगे। साथ ही बताएंगे कि यूपी सरकार ने कौन-कौन से फैसले लिए हैं।CM योगी दिल्ली में राष्ट्रपति कोविंद और PM मोदी से मिलकर दे सकते हैं सरकार की रिपोर्ट.....43 साल बाद आर्मी चीफ ने पहनी अपने स्कूल की यूनिफार्म, फिर गुनगुनाया स्कूल सांग….

सात महीने का ब्योरा किया तैयार
सूत्रों के मुताबिक सीएम योगी आदित्यनाथ ने सरकार के पिछले सात महीने के कामकाज का ब्योरा तैयार कराया है। मुख्यमंत्री कार्यालय शनिवार को इस ब्योरे को अंतिम रूप देने में जुटा हुआ था। इसमें अब तक यूपी कैबिनेट में लिए गए फैसलों की पूरी लिस्ट के साथ समीक्षा बैठकों में भी लिए गए फैसलों की जानकारी होगी। ब्योरे में विभागीय प्रेजेंटेशन के दौरान तैयार की गई भविष्य की योजनाओं का खाका भी रखा गया है, जिसे यूपी सरकार जल्द ही लागू करेगी। यह पूरी रिपोर्ट 12 पेज में तैयार की गई है। 

वाराणसी आने का निमंत्रण भी देंगे
सीएम योगी प्रधानमंत्री को वाराणसी आने का निमंत्रण भी देंगे। वह उन्हें यह भी बताएंगे कि प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में अब तक कितने काम हो चुके हैं और भविष्य में किन कामों को करने की तैयारी है। दरअसल सीएम यह चाहते हैं कि प्रधानमंत्री इसी महीने वाराणसी आएं और कुछ कार्यों की शुरुआत करें। साथी ही यहां छोटे-छोटे उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए बने ट्रेड फसिटिलेशन सेंटर का लोकार्पण करें। यह सेंटर केंद्र सरकार की मदद से बना है और इस पर 253 करोड़ रुपये खर्च हुए थे। इसके अलावा वाराणसी के सारनाथ में बुद्ध थीम पार्क का काम पूरा हो चुका है। दुर्गा कुंड और लक्ष्मी कुंड का भी सौंदर्यीकरण हो चुका है। अगर प्रधानमंत्री तैयार हुए तो इसी महीने इन सबका उद्घाटन हो जाएगा।

राष्ट्रपति को भी देंगे न्योता

सीएम योगी राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को भी यूपी आने का न्योता देंगे। राष्ट्रपति का 14 और 15 को लखनऊ और कानपुर आने का कार्यक्रम है। उनका यहां अभिनंदन किया जाएगा। राष्ट्रपति बनने के बाद कोविंद पहली बार अपने गांव भी जाएंगे। इस वजह से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ खुद उन्हें आमंत्रित करना चाहते हैं।
loading...

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

English News