UP Cm योगी ने कहा कि प्रदेश को दिव्यांग राज्य नहीं बनने देंगे, सबका होगा विकास!

लखनऊ: यूपी इंवेस्टर्स समिट को लेकर दो दिन ही बाकी है। सीएम से लेकर प्रदेश का पूरा प्रशासनिक अमला इंवेस्र्टस समिट को सफल बनाने में लग गया है। इस बीच एक अंग्रेजी अखबार को दिये गये अपने इंटरव्यू में यूपी के सीएम ने बहुत की अहम बात कही है। सीएम ने कहा कि प्रदेश में वह किसी भी व्यक्ति को साथ नहीं छोड़ सकते हैं। प्रदेश का विकास तभी संभव है कि जब सबका साथ और सबका विकास होगा।


सीएम से इस बात का सवाल किया गया था कि उनकी छवि हिदुत्व की है। ऐसे में उन्होंने अपने बजट में मदरसों के अधुनिकीकरण को लेकर काफी कुछ दिया। इस सवाल के जवाब पर सीएम ने कहा कि वह प्रदेश के सीएम हैं। प्रदेश में रहने वाले हर वर्ग की तरक्की और सुरक्षा की जिम्मेदारी उनकी है।

उन्होंने उद्हरण देते हुए कहा कि अगर शरीर का कोई अंग बेकार हो जाये तो इंसान को दिव्यांग कहा जाने लगा है। ठीक उसी तरह अगर किसी वर्ग को छोड़ दिया जाये और उस पर ध्यान न दिया जाये तो प्रदेश दिव्यांग हो जायेगा। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि वह नहीं चाहते हैं कि प्रदेश का दिव्यांग प्रदेश कहा जाये।

यूपी में होने वाली इंवेस्टर्स समिट को लेकर सीएम को काफी उम्मीदें हैं। उन्होंने बताया कि अभी तक कानून-व्यवस्था के चलते प्रदेश में निवेशक निवेश के लिए राजी नहीं होते थे। उनकी सरकार बनाने के पहले ही दिन से इस बात के साफ आदेश दे दिये गये थे कि प्रदेश में कानून का राज स्थापति हो चाहिए।

अपराधी जेल में हो या फिर वह प्रदेश छोड़ दे। पुलिस और प्रशासन ने मिलकर अपराधियों की कमर तोड़ दी है। सहारनपुर और कासगंज जनपद में हुई घटना पर बोलते हुए सीएम ने कहा कि इन दोनों घटनाओंं को दंगा कहना सही नहीं है।

दोनों ही जगह जो हुआ वह सामान्य अपराध है और उसी आधार पर पुलिस व प्रशासन ने अपनी कार्रवाई भी की। सीएम योगी ने कहा कि इंवेस्टर्स समिट में वह उद्योगपतियों को यह कहकर स्वागत करेंगे कि उनका देश के सबसे बड़े बाजार में स्वागत है। सीएम ने इस बात की उम्मीद भी जतायी है कि यह इंवेस्टर्स समिट देश की सबसे बड़ी समिट होगी।

You May Also Like

English News