CM वीरभद्र ने कहा – मैं बाइज्जत बरी हो जाऊंगा, तो फिर किस मुद्दे पर चुनाव लड़ेगी भाजपा…

मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने कहा कि भाजपा के पास विधानसभा चुनाव लड़ने के लिए कोई एजेंडा नहीं बचा है। भाजपा नेताओं के जहन में एक ही एजेंडा है – वीरभद्र सिंह। उन्होंने कहा कि अदालत के जिस मुद्दे को भुनाकर भाजपा सरकार बनाना चाहती है, अगर वो ही नहीं रहेगा तो प्रदेश में भाजपा किस मुद्दे पर चुनाव लड़ेगी।CM वीरभद्र ने कहा - मैं बाइज्जत बरी हो जाऊंगा, तो फिर किस मुद्दे पर चुनाव लड़ेगी भाजपा...ट्यूबलाइट के फ्लॉप होने से डिस्ट्रीब्यूटर्स परेशान, पैसे मांगने पहुंचे सलमान के घर

सीएम ने कहा कि वह अदालत से जल्द बाइज्जत बरी होंगे। उन्होंने कहा कि मैंने कोई गलत काम नहीं किया है, जिससे मैं जेल जाऊं। सीएम मंडी के विपाशा सदन में आयोजित युकां के संकल्प शिविर के समापन पर बोल रहे थे।

उन्होंने कहा कि मैं भाजपा नेताओं के तन मन में बस गया हूं। न उन्हें दिन को चैन है, न रात को नींद। पता नहीं क्यों भाजपा नेता मुझसे इतना डरते हैं।

सीएम बोले, केंद्र ने भी मेरी सेवा में कोई कसर नहीं छोड़ी 

केंद्र सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि केंद्र ने मेरी सेवा में कहां कसर छोड़ी है? एक छोटे से केस के लिए सीबीआई, ईडी व आयकर विभाग को मेरे पीछे लगा दिया है। लेकिन, इससे भी प्रदेश भाजपा के नेताओं का मन नहीं भर रहा है। उन्होंने कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में भाजपा ने शालीनता से कार्य किया।

इराकी सेना ने किया मोसुल से ISIS का खात्मा, इराकी सेना ने फहराया जीत का झंडा…
लेकिन, मोदी सरकार के कार्यकाल में शालीनता नाम की कोई चीज नहीं बची है। उनको झूठे मुकदमों में फंसाने के लिए भाजपा इतने षड्यंत्र रच रही है, जितने अभी तक पाकिस्तान ने भारत के खिलाफ नहीं रचे। 

भाजपा का हर नेता सीएम बनने के ख्वाब देख रहा है। उन्होंने कहा कि भाजपा की रथयात्रा पूरी तरह से फ्लॉप रही है। नेता प्रतिपक्ष प्रेम कुमार धूमल पर हमला बोलते हुए कहा कि धूमल दूसरों को तंग करने की राजनीति करते हैं।

धूमल ने सीएम रहते हुए भी उनके ऊपर कई झूठे केस किए थे। लेकिन, वह हर बार अदालत से बाइज्जत बरी हुए हैं। इस मौके पर उन्होंने युकां प्रदेशाध्यक्ष विक्रमादित्य सिंह को शिविर के सफल आयोजन के लिए बधाई दी।

उन्होंने युकां के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमरेंद्र बरार की युवाओं को विधानसभा चुनाव में टिकट देने की सिफारिश करने पर कहा कि राजनीति में युवा सोच व तजुर्बे का मिश्रण जरूरी है।

You May Also Like

English News