Devar-Bhabhi: देवर ने अपनी ही भाभी को ठगा, अब भाभी पहुंची पुलिस के पास!

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के कैण्ट इलाके में रहने वाली एक महिला ने अपने देवर पर फर्जी साइन की चेक के माध्यम से साढ़े आठ लाख रुपये निकालने का आरोप लगाया है। महिला को ठगी का पता उस वक्त हुआ जब महिला के पास बैंक से रुपये कटने का मैसेज आया। बैंक पहुंची महिला को अपने देवर की हरकत का पता चला तो उसने इस संबंध में कैण्ट कोतवाली में धोखाधड़ी की रिपोर्ट दर्ज करायी।


कैण्ट के बड़ी लाल कुर्ती इलाके में पल्लवी कुमार अपने परिवार के साथ रहती है। उसका बैंक आफ इण्डिया की एक शाखा में बचत खाता है। पल्लवी की शादी आशियाना के सेक्टर एच में हुई थी। जनवरी माह में पल्लावी ने बैंक से चेक बुक इश्यू करने के लिए आवेदन किया था। इस पर बैंक वालों ने उसका आधार कार्ड मांगा था।

आधार कार्ड पर पल्लावी का पता उसकी ससुराल का दर्ज था। इस पर बैंक वालों ने डाक के माध्यम से चेक बुक उसकी ससुराल भेजने देने की बात कही। इसके बाद पल्लावी को चेक बुक नहीं मिली। 22 मई को पल्लावी के पास बैंक से मैसेज आया कि उसके खाते से 2.75 लाख रुपये चेक के माध्यम से निकाले गये हैं। मैसेज पढ़ पल्लावी के पैरों तले जमीन खिसक गयी।

वह अपने भाई के साथ बैंक पहुंची और शिकायत दर्ज करायी। छानबीन की तो पता चला कि पहले भी चेक के माध्यम से उसके खाते से 2.75 और 3.40 लाख रुपये निकाले गये थे। यह दोनों रकम 12 अप्रैल और 14 मई को पल्लावी की साइन किये गये चेक से निकाली गयी थी। पल्लावी ने बैंक अधिकारियों को बताया कि जिन चेकों के माध्यम से रुपये निकाले गये थे वह चेक उसके पास थे ही नहीं और साइन भी उसकी नहीं है।

इसके बाद छानबीन को आगे बढय़ा गया तो पता चला कि चेक से सारे रुपये पल्लावी के देवर अभिषेक कुमार ने निकाली थी। उसको बैंक से भेजी गयी पल्लावी की चेकबुक मिल गयी थी। इसके बाद उसने पल्लावी के फर्जी साइन कर खाते से साढ़े आठ लाख रुपये निकाल लिये। देवर की इस ठगी का पता चलने पर पल्लावी ने अब कैण्ट कोतवाली में अभिषेक के खिलाफ धोखाधड़ी की रिपोर्ट दर्ज करायी है।

You May Also Like

English News