Election: गुजरात चुनाव के लिए भाजपा ने जारी की प्रत्याशियों की दूसरी सूची!

गुजरात: गुजरात विधानसभा चुनाव की तारीख जैसे-जैसे करीब आ रही है, वैसे-वैसे गुजरात की राजनीति हलचल भी तेजी होती जा रहीं हैं। उम्मीदवारों को टिकट देने के मामले में बीजेपी कांग्रेस से आगे निकलती दिख रही है। बीजेपी ने अपने प्रत्याशियों की दूसरी लिस्ट भी जारी कर दी है। शनिवार को पार्टी ने 36 उम्मीदवारों की दूसरी लिस्ट फाइनल कर दी है।

बीजेपी की केंद्रीय चुनाव समिति के सचिव जेपी नड्डा ने यह सूची जारी की है। गुजरात चुनावों के मद्देनजर कांग्रेस किसी और को टिकट दे उससे पहले युवराज का टिकट पक्का करने की बात कर रही लेकिन अब भी कांग्रेस के लिए असमंजस की स्थिति दिखाई दे रही है। कीर्ति सिंह वाघेला को कांकरेज, प्रदीप सिंह जाडेजा को वटवा, बलराम खूबचंद थावाणी को नरोडा, राघवजी भाई गडारा को टंकारा और हरीभाई पटेल को धोराजी सीट से टिकट दिया गया है।

इसके अलावा दाहोद से कन्हैयालाल बजुभाई किशोरी, सूरत पूर्व से अरविंद भाई शांतिलाल राणा और उना से हरीभाई बोघाभाई सोलंकी को टिकट मिला है। इस तरह पहली लिस्ट को मिलाकर अब तक कुल 106 प्रत्याशियों के नाम घोषित किए जा चुके हैं। राज्य में विधानसभा की कुल 182 सीटें हैं। ऐसे में अब बीजेपी को 76 और उम्मीदवारों के नाम तय करने हैं।

बीजेपी की पहली लिस्ट में सीएम विजय रुपाणी, डिप्टी सीएम नितिन पटेल समेत 70 कैंडिडेट्स के नाम घोषित किए गए हैं। बीजेपी ने इस बार टिकट के बंटवारे में जातिगत समीकरणों का पूरा ध्यान रखा है। सबसे अहम पाटीदार बहुल इलाके हैं। हालांकि कांग्रेस की तरफ से अब तक एक भी लिस्ट जारी नहीं की गई है। हार्दिक पटेल फैक्टर को देखते हुए बीजेपी उम्मीदवारों के चयन में सावधानी बरतने की जुगत में है।

70 प्रत्याशियों की पहली लिस्ट में बीजेपी ने अपने 49 विधायकों को फिर से मौका दिया है। सीएम विजय रुपाणी और डिप्टी सीएम नितिन पटेल जैसे नेताओं की वीआईपी सीटें नहीं बदली गईं हैं। विजय रुपाणी राजकोट पश्चिम से और नितिन पटेल मेहसाणा से चुनाव लड़ेंगे। बीजेपी की इस लिस्ट में 15 पाटीदार कैंडिडेट्स को भी टिकट मिला है।

इसके अलावा कांग्रेस से इस्तीफा देकर बीजेपी में शामिल हुए 5 नेताओं को भी टिकट मिला। ये वे विधायक हैं जिन्होंने कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया था। गुजरात की 182 विधानसभा सीटों पर 9 दिसंबर और 14 दिसंबर को दो चरणों में मतदान होना हैए जबकि वोटों की गिनती 18 दिसंबर को हिमाचल प्रदेश के साथ ही होगी।

You May Also Like

English News