Election: लखनऊ मेें चुनाव में वोटर लिस्ट से नाम गायब को लेकर कई जगह हंगामा, देखिए तस्वीरें!

लखनऊ: राजधानी लखनऊ में रविवार को नगर निगम और नगर पंचायत के लिए वोट डाले गये। इस दौरान सुबह तो कई जगहों पर ईवीएम मशीन खराब होने की सूचना मिली। इसके बाद निकाय चुनाव में काफी लोगों के नाम वोटर लिस्ट से गायब मिले। इस बात को लेकर कुछ जगहों पर जमकर हंगामा हुआ। वोटिंग लिस्ट में गड़बड़ी के चलते लखनऊ में वोटिंग प्रतिशत भी काफी कम रहा।


गन्ना संस्थान पोलिंग सेंटर के बाहर हंगामा और लाठीचार्ज
हजरतगंज के डालीबाग इलाके में स्थित गन्ना संस्थान में सुबह से सामान्य रूप से मतदान चल रहा था। अचानक दोपहर को कुछ लोग वहां जमा हुए और उन लोगों ने वोटर लिस्ट से लोगों का नाम गायब होने का आरोप लगाते हुए हंगामा शुरू कर दिया। इस बीच एक प्रत्याशी के भी समर्थक वहां पहुंच गये और उन लोगों ने भाजपा प्रत्याशी पर फर्जी वोटिंग का आरोप लगाया। बस इसी के बाद पोलिंग सेंटर के बाहर का माहौल गरमा गया। करीब 50 से 60 लोगों की भीड़ सड़क पर जमा होकर नारेबाजी करने लगी। इस बीच पोलिंग सेंटर पर तैनात पुलिस वालों ने सूचना कंट्रोल रूम को दी। सूचना मिलते ही मौके पर हजरतगंज पुलिस पहुंच गयी। पुलिस ने पहले तो नारेबाजी कर रहे लोगों को समझाने की कोशिश की, पर बात को बिगड़ता देख पुलिस ने लाठी भांजना शुरू कर दी। अचानक लाठी चलने से वहां भगदड़ मच गयी। हंगामा कर रहे लोग वहां से भाग खड़े हुए। हंगामे की सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस व प्रशासन के अधिकारी भी पहुंच गये। इसके बाद पुलिस ने पोलिंग सेंटर और उसके आसपास के इलाके में मार्च किया और सड़क पर मौजूद भीड़ को हटाया। करीब आधे घंटे के बाद गन्ना संस्थान में चल रही पोलिंग फिर से सामान्य हो गयी। हंगामे को देखते हुए हजरतगंज पुलिस की एक टीम को पोलिंग सेंटर के बाहर एहतियात के तौर पर तैनात कर दिया गया।

सेंट फेडलिस स्कूल में हुआ जमकर हंगामा
विकासनगर स्थित सेंट फेडलिस स्कूल में चुनाव शुरू होते ही ईवीएम में गड़बड़ी आ गयी। बताया जाता है कि इसके बाद वहां पर भाजपा के एक प्रत्याशी मौके पर पहुंच गये। आरोप है कि ईवीएम में गड़बड़ी को लेकर प्रत्याशी ने हंगामा शुरू कर दिया और वीडियो बनाने लगे। प्रत्याशी के इस हरकत को देखते ही मौके पर मौजूद पुलिस कर्मियों ने समझाने की कोशिश की तो प्रत्याशी पुलिस वालों से ही भिड़ गये। सूचना पाकर मौके पर विकासनगर पुलिस भी पहुंच गयी। आरोप है कि इस बीच प्रत्याशी और पुलिस वालों के बीच हाथापाई भी हुई। मौके पर पहुंचे पुलिस व प्रशासन के अधिकारियों ने किसी तरह मामले को शांत कराया। अचानक हुई इस घटना से पोलिंग सेंटर पर कुछ देर के लिए अफरा-तफरी का माहौल देखने को मिला। इस संबंध में जब एसओ विकासनगर सुमित श्रीवास्तव से बात की गयी तो उन्होंने बताया कि मामूली विवाद हुआ था और मामले को शांत करा दिया गया था।

माल एवन्यू के माडल बूथ पर दो घंटे तक हुआ हंगामा
माल एवन्यू के म्यूनिसिपल नर्सरी स्कूल को आदर्श मतदान केन्द्र बनाया गया था। इस मतदान केन्द्र को $गह मंत्री राजनाथ सिंह ने सुबह 11 बजे के करीब अपने मत का प्रयोग किया। करीब साढ़े ग्यारह बजे के आसपास कुछ लोग अपनी पर्ची लेकर वोट डालने के लिए पहुंचे तो उनको पता चला कि उनका वोट पड़ चुका है। यह बात सुन लोग भड़क उठे और हंगामा शुरू कर दिया। वहीं मतदान केन्द्र पर पहुंचे कुछ लोगों के नाम कटने से वह लोग वोट नहीं डाल सके। इस बात को लेकर वहां हंगामा शुरू हो गया। मौके पर मौजूद अधिकारियों ने किसी तरह लोगों को समझा.बुझाकर शांत कराया। हंगामेे की खबर मिलते डीएम कौशल राज भी मौके पर पहुंचे। उन्होंने लोगों को समझा.बुझाकर शांत कराया। किसी तरह वोटिंग का सिलसिला फिर से शुरू हुआ। इस बीच करीब डेढ़ बजे 30 से 40 लोग वहां पहुंच गये और हंगामा शुरू कर दिया। वह लोग मतदान केन्द्र के बाहर बैठ गये और प्रदर्शन करने लगे। प्रदर्शन कर रहे लोगों ने फर्जी वोटिंग और वोटर लिस्ट से लोगों के नाम गायब होने का आरोप लगाया। अचानक इस घटना से वहां अफरा.तफरी का माहौल पैदा हो गया और मतदान भी प्रभावित हुआ। हंगामे की खबर मिलते एसओ गौतमपल्ली अम्बर सिंह भी मौके पर पहुंच गये। उन्होंने पहले तो प्रदर्शन कर रहे लोगों को वहां से हटाने का काम किया। किसी तरह लोग वहां से हट तो गये, पर लोगों ने इस बात को लेकर काफी नारजगी देखने को मिली।


यूनिटी कालेज पोलिंग सेटर पर भी हंगामा, पुलिस ने भांजी लाठियां
ठाकुरगंज के यूनिटी कालेज दोपहर तक वोटिंग सामान्य रूप से चल रही थी। इस बीच अचानक कुछ लोग वोटर लिस्ट में नाम की गड़बड़ी और फर्जी वोटिंग को लेकर हंगामा शुरू कर दिया। हंगामा करने वालों में महिलाएं भी शामिल थींं। एक तरफ पुलिस ड्रोन से सुरक्षा-व्यवस्था का जायजा ले रही थी, कि अचानक हंगामे से अफरा-तफरी मच गयी। पुलिस ने हालात को संभालने के लिए हंगामा कर रहे लोगों को लाठियां लेकर खदेड़ लिया। पुलिस की इस कार्रवाई के बाद किसी तरह हंगामा शांत हुआ।

राजकीय बालिका इण्टर कालेज में एक युवक को पुलिस ने पीटा
वजीरगंज स्थित सिप्स अस्पताल के पास स्थित राजकीय बालिका इण्टर कालेज में वोट डालने के लिए गुलजार अहमद अपने दस्तावेज लेकर पहुंचा था। गुलजार वोट डालने के लिए लाइन में लग गया। किसी कारणवश लाइन में आगे मौजूद लोग बढ़ नहीं रहे थे। इस बात पर गुलजार ने विरोध किया। आरोप है कि बस गुलजार के इस विरोध पर ड्यूटी पर मौजूद एक दारोगा भड़क उठे और गुलजार को पीट दिया। पिटाई के दौरान गुलजार की आंख पर मामूली चोट लगी। अचानक हुई इस घटना के बाद स्थानीय लोग भी नाराज हो गये और जमा होने लगे। सूचना मिलते ही मौके पर वजीरगंज पुलिस भी पहुंच गयी। भीड़़ को एकत्र होते देख पुलिस ने लोगों को वहां से खदेड़ लिया।

वजीरगंज में ललिता मान्टेसरी स्कूल में हंगामा, पुलिस लोगों को खदेड़ा
वजीरगंज के कुण्डरी रकाबगंज स्थित ललिता मान्टेसरी स्कूल में दोपहर करीब 3 बजे कुछ लोगों ने फर्जी वोटिंग की शिकायत लेकर हंगामा शुरू कर दिया। अचानक हंगामे की वजह से वहां अफरा-तफरी मच गयी। पोलिंग सेंटर पर मौजूद पुलिस वालों ने सूचना पुलिस के अधिकारियों को दी। खबर मिलते ही मौके पर वजीरगंज कोतवाली से फोर्स मौके पर पहुंच गयी। पुलिस ने हंगामा होता देखा कि सबसे पहले लाठियां भांज कर लोगों को खदेड़ा । इसके बाद पुलिस ने छानबीन की तो पता चला कि फर्जी वोटिंग की बात गलत थी और लोगों के बीच इस बात को किसी ने अफवाह फैला दी थी।

इरम कान्वेट स्कूल में प्रत्याशी और पुलिस के बीच झड़प
गुड़म्बा इलाके में इरम कान्वेट स्कूल में वोटिंग के दौरान एक प्रत्याशी अपने कुछ लोगों के साथ पहुंच गये। पुलिस का कहना है कि वह लोग वहां पर मौजूद लोगों को हटने के लिए कहने लगे। बताया जाता है कि इस बात को लेकर कुछ लोगों ने एतराज कर दिया। देखते ही देखते बात काफी बढ़ गयी। सूचना मिलते ही मौके पर गुड़म्बा पुलिस भी पहुंच गयी। पुलिस ने हंगामा होता देख लाठियां भांज कर लोगों को वहां से खदेड़ लिया।

अमीनाबाद इण्टर कालेज के बाहर भी जमकर हंगाम, पुलिस ने भांजी लाठी
अमीनाबाद इलाके में वार्ड नम्बर 99 के लिए अमीनाबाद इण्टर कालेज में शांतिपूर्ण ढंग से वोटिंग चल रही थी। इस बीच कुछ लोग वहां पहुंचे और बरिहाना इलाके में फर्जी वोटिंग की बात कहने लगे। वहीं कुछ ही देर में अमीनाबाद इण्टर कालेज में भी फर्जी वोटिंग को लेकर अफवाह उड़ गयी। अचानक वहां अफरा-तफरी का माहौल पैदा हो गया। सूचना मिलते ही मौके पर अमीनाबाद पुलिस फोर्स के साथ पहुंच गयी। इसके बाद पुलिस ने हंगामा कर रहे लोगों को लाठी लेकर खदेड़ लिया। हालात को सामान्य करने के बाद पुलिस ने चिकमण्डी, रस्सी बटान और उसके आसपास के इलाके में गश्त किया।

You May Also Like

English News