Fraud: आईपीएस अधिकारी बन युवक ने मेडिकल स्टूटेंड से की ठगी!

लखनऊ: एक शादीशुदा युवक न सिर्फ फर्जी आईपीएस अधिकारी बन बैठा, बल्कि उसने एक मेडिकल छात्रा को अपने प्यार के जाल में फंसाकर उसके साथ ठगी भी की। आरोपी युवक के शादी शुदा होने की जानकारी हुई तो छात्रा ने उसके पिता से शिकायत की। आरोपी के पिता ने भी अपने आप को फर्जी एसपी सिटी बनकर दबाव में लेने की कोशिश की। आरोपी ने छात्रा के फोटो और वीडियो सोशल मीडिया साइड पर वायरल करने की धमकी दी गयी। छात्रा ने इस मामले की शिकायत पुलिस से की और हजरतगंज थाने में पिता पुत्र के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करायी है।


गोमती नगर स्थित एक कालेज में छात्रा पढ़ती है। छात्रा ने इलाहाबाद अललापुर अमिताभ बच्चन रोड पूरा दलेल निवासी रितेश और उसके पिता विनय उपाध्याय के खिलाफ हजरतगंज कोतवाली में धोखाधड़ी की रिपोर्ट दर्ज करायी है। मेडिकल छात्रा का आरोप है कि रितेश से उसकी मुलाकात करीब एक वर्ष पूर्व सहारागंज माल में हुई थी।

इसके बाद दोनों के बीच दोस्ती हो गयी थी। रितेश ने अपने आप को आईपीएस बताया था और उसकी शिफ्ट डिजायर कार में हमेशा आईपीएस की कैंप रखी रहती थी। दोनों के बीच हुई दोस्ती काफी गहरी हो गयी थी और रितेश ने छात्रा से शादी का प्रस्ताव रखा था। छात्रा की फैमिली से मुलाकात भी की थी। परिवार के लोगों ने आईपीएस होने के चलते दोनों के रिश्ते को भी मंजूरी दे दी थी।
छात्रा और रितेश की शादी की मंजूरी मिलने के बाद रितेश ने छात्रा से एक लाख रुपये की जरूरत होने की बात कहीं। छात्रा ने उस पर विश्वासन करते हुए एक लाख रुपये कैश दे दिए। मेडिकल छात्रा का कहना है कि इस दौरान रितेश अक्सर उससे पर्स, मोबाइल फोन को भी चेक कर लेता था लेकिन उनके भविष्य के रिश्ते को देख वह चुप रहती थी। मेडिकल छात्रा का आरोप है कि उसके मोबाइल फोन पर उसके एकाउंट की सारी डिटेल थी, उसी नंबर पर एटीएमए पेटीएम और क्रेडिट कार्ड का ओटीपी भी आता था।

वह दो मोबाइल फोन इस्तेमाल करती है जिस नंबर पर ओटीपी आता था उस नंबर को वह ज्यादा यूज नहीं करती थी। इस दौरान रितेश ने धोखे से यूपीसी जनरेट करके एयरटेल कंपनी का नंबर पोर्ट करा लिया था जिस कंपनी में उसने नंबर पोर्ट कराया था उसका सिम उसने अपने पास रख लिया था।

मेडिकल छात्रा ने बताया कि जिस नंबर पर ओटीपी शेयर होता था वह नंबर रितेश ने धोखे से अपने पास रख लिया था। उस नंबर के जरिए बैंक के एकाउंट नंबर और उनकी सारी डिटेल उसके पास पहुंच गयी थी। रितेश ने 31 अक्टूबर से 10 दिसंबर के बीच एकाउंट से पहले 25 हजार रुपये और एसबीआई के भूतनाथ स्थित एटीएम से 20 हजार रुपये कैश निकाला था।

छात्रा का कहना है कि रितेश ने धोखे से उसे पर्स में रखी सोने की ढाई तोले की चेन भी चुरा ली थी। इसकी जानकारी होने पर उसने चेन दोबारा बनवाकर देने का वादा किया था। जिसकी मोबाइल रिकार्डिंग भी सबूत के तौर पर है। उनके बीच शादी का रिश्ता तय होने जा रहा था,इस लिहाज से छात्रा ने भी चुप्पी साध ली।

मेडिकल छात्रा ने बताया कि दिसंबर माह में उसने रितेश के घर इलाहाबाद फोन किया था। फोन एक महिला ने उठाया और अपने आप को रितेश की पत्नी बताया। जिसके बाद उसे पैरों तले जमीन खिसक गयी। रितेश के पहले से शादीशुदा होने का राज खुला।

इस बाबत रितेश ने उसे मैनेज करने का प्रयास किया था और कहां था कि वह अपनी पत्नी से तलाक ले कर उससे दोबारा शादी करेगा, छात्रा ने इसका विरोध किया तो रितेश ने उसके पिता के मोबाइल फोन पर दोनों की कुछ तस्वीर और वीडियो व्हाट्सअप कर दी और धमकी दी कि वह इन फोटो को सोशल मीडिया साइड पर वायरल कर देगा। इस बात का पता चलने पर छात्रा ने आरोपी युवक व उसके पिता के खिलाफ हजरतगंज कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज करायी है।

You May Also Like

English News