GLA में शुरू होगा MBA का नया कोर्स, मिलेंगे नौकरी के अच्छे अवसर, जल्द करे आवेदन…

लॉजिस्टिक और सप्लाई चेन मैनेजमेंट न केवल किसी कंपनी के लिए आवश्यक सामान, समुचित व्यवस्था के साथ उचित समय व न्यूनतम खर्चे करने के नजरिये से महत्वपूर्ण है बल्कि रोजगार के लिहाज से भी इस क्षेत्र में अपार संभावनाएं हैं। रोजगार की अपार संभावनाओं को देखते हुए GLA विश्वविद्यालय, मथुरा के इंस्टिट्यूट ऑफ बिजनेस मैनेजमेंट (आईबीएम) ने सेफड्यूकेट (जो कि बहुचर्चित एससीएम और लॉजिस्टिक की बड़ी कंपनी सेफ एक्सप्रेस की सिस्टर कन्सर्न कंपनी है) के साथ मिलकर लॉजिस्टिक और एससीएम के क्षेत्र में एमबीए कोर्स की शुरुआत की है।   GLA में शुरू होगा MBA का नया कोर्स, मिलेंगे नौकरी के अच्छे अवसर, जल्द करे आवेदन...

पीएचडी बुद्धिस्ट की परीक्षा अब दोबारा से होगी…

GLA विश्वविद्यालय के प्रो वाइस चांसलर प्रोफेसर ए एम अग्रवाल ने नए सत्र से शुरू होने वाले कोर्स ‘एमबीए लॉजिस्टिक एंड एससीएम’ के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था एशिया और विश्व स्तर पर तेजी से विकसित होती हुई अर्थव्यवस्था है, जिसके फलस्वरूप सप्लाई चेन मैनेजमेंट में अपार रोजगार की संभावनाओं को जन्म दिया है। इस कोर्स को करने के बाद विद्यार्थी देश-विदेश की जानी-मानी कंपनियों जैसे फ्लिपकार्ट, वरूणा, गति, फेडक्स, डीटीडीसी, अमेजन, स्नेपडील, कोल्डेक्स, सेफ एक्सप्रेस आदि में बेहतरीन करियर पाने के लिए कोशिश कर सकता है। 

सेफड्यूकेट के प्रमुख सुरजीत सिंह एवं असिस्टेंट मैनेजर (इंस्टीट्यूशनल एलाइंस) निशिकांत ने बताया कि ई- कॉमर्स में आई तेजी से लॉजिस्टिक व सप्लाई चेन मैनेजमेंट की भूमिका बहुत महत्वपूर्ण हो गई है। उन्होंने बताया कि एक सर्वे व रिसर्च अध्ययन के अनुसार दिन-प्रतिदिन बढ़ते हुए औद्योगिक वार्षिक वृद्धि दर और ई- कॉमर्स में आई तेजी को देखते हुए वर्ष 2022 तक तकरीबन 26.04 मिलियन ट्रेंड व्यक्तियों की एससीएम व लॉजिस्टिक के क्षेत्र में विभिन्न रोजगार हेतु आवश्यकता होगी।  

विभागाध्यक्ष प्रोफेसर विकास त्रिपाठी ने बताया कि ये रोजगार कोर्स वर्तमान समय में प्रबंधन के क्षेत्र में छात्रों के करियर को संवारने हेतु संजीवनी बूटी का कार्य करेगा। उन्होंने बताया कि दो वर्षीय पाठ्यक्रम के मुख्य आकर्षक बिन्दु सॉफ्ट स्किल सेशन्स, लाइव प्रोजेक्ट्स, इंडस्ट्री एक्सपर्ट द्वारा दिए गए अतिथि व्याख्यान, गेम्स एंड सिमुलेशन, बेहतरीन प्रैक्टिकल एक्सपोजर, तकरीबन 4 से 6 माह की प्रैक्टिकल ट्रेनिंग साथ में लेटेस्ट इंडस्ट्री ट्रेन्ड पर कार्यशाला एवं बेहतरीन रोजगार के अवसर हैं। विश्वविद्यालय के प्रबंधन संस्थान ने इस कोर्स के लिए प्रवेश प्रक्रिया शुरू कर दी है। विद्यार्थियों का भी प्रवेश के लिए अच्छा रूझान देखने को मिल रहा है।

You May Also Like

English News