GST बिल को मनमोहन सिंह ने बताया गेम चेंजर

नई दिल्ली : राज्यसभा में जीएसटी से जुड़े चार बिल पास होने पर वित्त मंत्री अरुण जेटली अपनी सीट से उठकर पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से हाथ मिलाया. इस पर पूर्व पीएम ने जेटली को बधाई देते हुए जीएटी बिल को गेम चेंजर करार दिया. उन्होंने कहा कि यह गेम चेंजर साबित हो सकता है, लेकिन हम कह नहीं सकते कि इसकी राह में कोई बाधा नहीं आएगी. वित्त मंत्री ने कहा कि जब देश के हित की बात आती है तो सभी राजनीतिक पार्टियां एक आवाज में बोलती हैं.

GST बिल को मनमोहन सिंह ने बताया गेम चेंजर

अभी अभी: जियो के ग्राहकों लगा बड़ा झटका, फ्री ऑफ़र को किया खत्म,

बता दें कि यह बात बहुत कम लोग जानते हैं कि पूर्व प्रधानमंत्री एवं अर्थशास्त्री मनमोहन सिंह ने मोदी सरकार की ओर से लाए गए जीएसटी बिल का भरपूर समर्थन किया. राज्यसभा में उपसभापति पीजे कुरियन की ओर से बिलों पर लाए गए संशोधन को लेकर पूर्व प्रधानमंत्री ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई.अर्थशास्त्री होने के नाते वे इस बिल का महत्व समझते थे. इसलिए उन्होंने पार्टी नेता जयराम रमेश को भी सलाह भी दी.तब यह बिल राज्य सभा में पास हो पाया.

केंद्र सरकार के इस फैसले से उड़ जाएगी लोगो की नीद, क्यों की…!

इस मौके पर वित्त मंत्री अरुण जेटली ने खुलासा किया कि धारा 370 के कारण जीएसटी बिल जम्मू-कश्मीर पर लागू नहीं होगा, लेकिन वहां की सरकार खुद ऐसा कर कानून ला रही है जो केंद्र के समान ही होगा. उन्होंने स्वीकार किया कि जीएसटी को लागू करने में शुरुआती दौर में कुछ समस्याएं आएंगी और इसे समझने में लोगों को थोड़ा वक्त लगेगा.आखिर में सब अच्छा ही होगा.

You May Also Like

English News