Health Tips: धीमी आंच पर पकी दाल होती है पौष्टिक और फायदेमंद भी!

लखनऊ: जीवनशैली से जुड़ी बीमारियों का प्रकोप बढ़ता जा रहा है। इसमें दिलए डायबिटीज मोटापा, जोड़ों में दर्दए सांस समेत दूसरी बीमारियां लोगों को आसानी से जद में ले रही हैं।

इन बीमारियों के बढऩे की वजह तनावए असंतुलित दिनचर्या व आराम तलबी है। यह जानकारी डायबिटीज एजुकेटर व लोकबंधु हॉस्पिटल के चीफ फार्मासिस्ट आनंद सिंह ने दी।सोमवार को लोकबंधु अस्पताल में जागरुकता कार्यक्रम हुआ। इसमें आनंद सिंह ने कहा कि दालों को धीमी आंच में पकाना चाहिए।

इससे आक्जीलेट कम बनते हैं। जिससे यूरिक एसिड की बढ़ती समस्या से निजात पाया जा सकता है। सुबह नाश्ता अच्छी प्रकार से करें। क्योंकि दोपहर तक मेटाबोलिक दर अधिक रहती है। दोपहर के बाद मेटोबोलिक दर कम हो जाती है। दोपहर में साधारण भोजन करें।

रात में सोने से दो घंटे पहले एकदम हल्का भोजन करें। रात में खाने के बाद कम से कम सौ कदम चलना जरूरी है। रात में छह से सात घंटे नींद जरूरी है। आनंद सिंह ने कहा कि प्रदूषण व धूम्रपन से भी बीमारी का प्रकोप बढ़ रहा है।

उन्होंने बताया कि बीमारियों से बचने के लिए जीवनशैली में सुधार लाएं। कसरत करें। खान-पान पर नियंत्रण रखें। वयस्क नमक, चीनी, घी व तेल आदि का सेवन संतुलित मात्रा में ही करें। मौसमी फलों का अधिक सेवन करें। हरी सब्जियों का सेवन भी करना चाहिए। सलाद का सेवन फायदेमंद है।

You May Also Like

English News