अगर भूलने की आदत से हैं परेशान तो इन घरेलू तरीकों को अपनाकर बढ़ाएं याद्दाश्त

ये तो हम सभी जानते हैं कि हमारे खाने पीने का असर हमारे शरीर पर पड़ता है लेकिन शायद हम यह भूल जाते है कि हमारे खान- पान का असर हमारी याददाश्त पर भी पड़ता है। अगर हमारे दिमाग को कुछ जरूरी पोषक तत्व नहीं मिलते तो वह कमजोर हो जाता है जिसकी वजह से हमारी याददाश्त भी कमजोर हो जाती है। चलिए आज हम आपको कुछ ऐसे घरेलू उपाय बताने जा रहे है जिनकी मदद से आप अपनी याददाश्त को बढ़ा सकते हैं।

अगर भूलने की आदत से हैं परेशान तो इन घरेलू तरीकों को अपनाकर बढ़ाएं याद्दाश्त

बादाम – बादाम के बारे में तो आपने हमेशा सुना ही होगा कि बादाम से दिमाग बढ़ता है। यह बात बिल्कुल सही है। बादाम में एंटी ऑक्सीडेंट और ओमेगा 3 एसिड पाया जाता है, जो कि हमारी मेमोरी को बढ़ाने में मदद करता हैं। रात को 4-5 बादाम भिगोकर सुबह उनका छिलका उतार कर उसे दूध के साथ खाएं।

सीएम योगी का बड़ा ऐलान: शहीद दरोगा को वीरता पदक, परिवार को 50 लाख की दी जाएगी आर्थिक सहायता

अखरोट- अखरोट भी दिमाग के लिए बहुत अच्छा माना जाता है। यह दिमाग में होने वाली कमजोरी से लड़ता है। रोज सुबह नियमित रूप से 20 ग्राम अखरोट का सेवन करने से याद्दाश्त बढ़ती है।

 कद्दू के बीज – कद्दू के बीज में भरपूर मात्रा में जिंक पाया जाता है। इसलिए यह दिमाग के लिए बहुत अच्छा माना जाता है। कद्दू के बीज के सेवन से आप अच्छी नींद भी ले सकते हैं।नारियल का तेल – नारियल का तेल हमारे दिमाग की कोशिकाओं को ईंधन देता है। जिससे हमारी याद्दाश्त बढ़ती है। आप चाहें तो नारियल के तेल का खाने में प्रयोग कर सकते है। अगर आप ऐसा नहीं कर पाते तो नियमित रूप से नारियल के तेल से अपने सर की मालिश करें।

अच्छी नींद ले – नियमित रूप से सोना चाहिए जिससे कि हमारा दिमाग शांत रहता है और हमारे दिमाग की सोचने की क्षमता बढ़ जाती है। दिमाग के लगातार प्रयोग से दिमाग भी थक जाता है। इसलिए 7-8 घंटे की नींद लेना जरूरी है, जिससे कि आप और आपका दिमाग तरोताजा महसूस करें ।

एक्सरसाइज करे – नियमित तौर पर एक्सरसाइज करें जिससे कि आपके दिमाग के साथ शरीर में ब्लड का सर्कुलेशन बेहतर रहेगा। मेडिटेशन, डीप ब्रीदिंग जैसी यौगिक क्रियाएं करे जिससे आपकी याददाश्त बढ़ेगी ।

You May Also Like

English News