INDvNZ: इन 11 खिलाड़ियों के साथ कोहली ने संभाली है कमान….

टीम इंडिया और न्यूजीलैंड के बीच रविवार को कानपुर में जोरदार जंग होना तय है। इसका प्रमुख कारण है सीरीज विनर का फैसला इस मैच में होगा। दोनों टीमें इस समय 1-1 की बराबरी पर है। जाहिर है, टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली और कीवी कप्तान केन विलियमसन कोई गलती नहीं करना चाहेंगे। विराट के पास सीरीज जीत का सुपर-7 पूरा करने का शानदार मौका है। इसे पूरा करने के लिए वो अंतिम वन-डे में इन 11 खिलाड़ियों के साथ उतरे हैं।  INDvNZ: इन 11 खिलाड़ियों के साथ कोहली ने संभाली है कमान....

Breaking:लखनऊ में 60 से अधिक लूट की वारदात को अंजाम देने वाले पांच लुटेरों गिरफ्तार,जानिए कैसे करते थे लूट!

ओपनिंग की जिम्मेदारी एक बार फिर ‘हिटमैन’ रोहित शर्माऔर ‘गब्बर’ शिखर धवन के कंधों पर है। रोहित अब तक सफल नहीं रहे है। उनसे निर्णायक मैच में बड़ी पारी की उम्मीद रहेगी। वहीं शिखर धवन ने पुणे में हुए दूसरे वन-डे में 68 रन की आकर्षक पारी खेली थी। कप्तान कोहली और टीम प्रबंधन को इस जोड़ी से शानदार शुरुआत की दिलाने की उम्मीद होगी। 

कप्तान विराट कोहली मिडिल ऑर्डर में धमाल मचाने के लिए तैयार रहेंगे। उन्होंने पहले वन-डे में करियर का 31वां शतक जमाया था जबकि दूसरे वन-डे में 29 रन की पारी खेली थी। विराट के फॉर्म को लेकर कोई शिकायत नहीं की जा सकती क्योंकि वो रन मशीन है। वहीं पुणे वन-डे में नाबाद 64 रन की मैच विजयी पारी खेलकर टीम की चौथे क्रम की समस्या को सुलझाने वाले दिनेश कार्तिक से एक बार फिर बड़ी पारी की उम्मीद होगी। दिनेश पर चयनकर्ताओं और टीम प्रबंधन की निगाहें गढ़ी हुई हैं और अगर वो बेहतर प्रदर्शन करने में कामयाब रहे तो अपने आप को चौथे क्रम के लिए स्थापित कर लेंगे। 

केदार जाधव ने बल्ले से अब तक कमाल नहीं किया है। उन्होंने पहले वन-डे में 12 रन बनाए थे जबकि दूसरे मैच में उन्हें बल्लेबाजी का मौका नहीं मिला। हालांकि, उनकी गेंदबाजी कीवी बल्लेबाजों पर लगाम कसने में कामयाब रही। जाधव अपनी उपयोगिता साबित करने के लिए बेकरार होंगे। एमएस धोनी के तो क्या कहने। वो इस टीम के मेंटर हैं। धोनी को हालांकि अपना दमखम दिखाने के लिए एक बढ़िया पारी खेलना होगी। अगर उन्हें बल्लेबाजी का मौका मिलता तो वो इसका पूरा फायदा उठाना चाहेंगे। 

हार्दिक पांड्या से टीम प्रबंधन को ताबड़तोड़ बल्लेबाजी और फिर गेंदबाजी में विकेट निकालने की उम्मीद होगी। पांड्या भी अपने बल्ले की चमक कानपुर में बिखेरने के लिए तैयार रहेंगे। वहीं अगर टीम इंडिया तीसरे वन-डे में जल्दी विकेट गंवाती है तो भुवनेश्वर कुमार भी बल्लेबाजी से बड़ी भूमिका अदा कर सकते हैं। गेंदबाजी में भुवी अभी शानदार लय में है और कप्तान कोहली को उम्मीद होगी कि वो शुरुआती ओवरों में टीम इंडिया को ज्यादा से ज्यादा सफलताएं दिलाएं।

loading...

You May Also Like

English News