INDvSA: टीम इंडिया ने गंवाए शीर्ष तीन विकेट, दक्षिण अफ्रीका सीरीज जीत के करीब

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मंगलवार को सेंचुरियन में चल रहे दूसरे टेस्ट के चौथे दिन टीम इंडिया बैकफुट पर पहुंच गई है। टीम इंडिया ने स्टंप्स तक 23 ओवर में 3 विकेट खोकर 35 रन बना लिए हैं। चेतेश्वर पुजारा 11* और पार्थिव पटेल 5* क्रीज पर जमे हुए हैं।INDvSA: टीम इंडिया ने गंवाए शीर्ष तीन विकेट, दक्षिण अफ्रीका सीरीज जीत के करीबटीम इंडिया को टेस्ट जीतने के लिए 252 रन की जरुरत है जबकि उसके 7 विकेट शेष हैं।  287 रन के चुनौतीपूर्ण लक्ष्य का पीछा करने उतरी टीम इंडिया की शुरुआत खराब रही। ओपनर्स मुरली विजय (9) और केएल राहुल (4) जल्दी-जल्दी पवेलियन लौटे। रबाडा ने जहां विजय को क्लीन बोल्ड किया तो एनगिडी ने राहुल को महाराज के हाथों कैच आउट कराया। इसके बाद लुंगी एनगिडी ने टीम इंडिया को सबसे तगड़ा झटका दिया। उन्होंने कप्तान विराट कोहली (5) को LBW आउट किया।

इससे पहले मोहम्मद शमी (4 विकेट) की घातक गेंदबाजी की बदौलत टीम इंडिया ने मंगलवार को दूसरे टेस्ट के चौथे दिन दक्षिण अफ्रीका की दूसरी पारी 91.3 ओवर में 258 रन पर ऑलआउट की। शमी-इशांत और बुमराह की त्रिमूर्ति ने चाय टाइम के कुछ देर बाद प्रोटियाज पारी को समेटा। इस तरह टीम इंडिया को 287 रन का लक्ष्य मिला है।

दक्षिण अफ्रीका की तरफ से एबी डीविलियर्स (80), ओपनर डीन एल्गर (61) और कप्तान फाफ डू प्लेसी (48) ने उम्दा पारियां खेली। वहीं टीम इंडिया के स्टार रहे तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी, जिन्होंने चार विकेट झटके। जसप्रीत बुमराह ने तीन जबकि इशांत शर्मा ने दो विकेट झटके। रविचंद्रन अश्विन को एक सफलता मिली।

बता दें कि तीसरे दिन का खेल तेज बारिश और फर खराब रोशनी के कारण जल्दी समाप्त कर दिया गया था। पता हो कि दक्षिण अफ्रीका की पहली पारी 335 रन पर सिमटी थी, जिसके जवाब में टीम इंडिया 307 रन बनाकर ऑलआउट हुई थी। इस तरह पहली पारी के आधार पर अफ्रीका को 28 रन की बढ़त मिली थी।

मेजबान टीम ने सेंचुरियन टेस्ट में मंगलवार को अपनी पारी 90/2 के स्कोर से आगे बढ़ाई। डीन एल्गर ने इशांत शर्मा द्वारा किए पारी के 38वें ओवर की तीसरी गेंद पर चौका जड़कर अपने टेस्ट करियर का 9वां अर्धशतक जमाया। उन्होंने 93 गेंदों में 6 चौको और एक छक्के की मदद से पचासा जड़ा। टीम इंडिया के खिलाफ एल्गर ने दूसरी फिफ्टी जमाई।

डीविलियर्स और एल्गर ने शुरुआत में तेजी से रन बनाए। दोनों ने जल्द ही शतकीय साझेदारी पूरी की। बता दें कि एल्गर और डीविलियर्स ने तीसरे विकेट के लिए 141 रन की साझेदारी की। एबी डीविलियर्स (80) अच्छी लय में नजर आ रहे थे और लग रहा था कि वह अपना शतक पूरा कर लेंगे। मगर मोहम्मद शमी की एक शानदार गेंद डीविलियर्स के बल्ले का बाहरी किनारा लेकर सीधे विकेटकीपर पार्थिव पटेल के दस्तानों में जाकर समाई। डीविलियर्स ने 121 गेंदों में 10 चौको की मदद से 80 रन बनाए।

जल्द ही शमी ने डीन एल्गर (61) को डीप स्क्वायर लेग पर राहुल के हाथों कैच आउट कराकर दक्षिण अफ्रीका को चौथा झटका दिया। बाएं हाथ के बल्लेबाज ने 121 गेंदों में 8 चौको और एक छक्के की मदद से 61 रन बनाए। यहां से क्रीज पर आए क्विंटन डी कॉक ने शमी की लगातार तीन गेंदों पर तीन चौके जमाए। उल्लेखनीय है कि तीनों ही शॉट्स स्लिप और गली के बीच से ही गए। मगर शमी ने चौथी गेंद पर कॉक का कैच विकेटकीपर पटेल के हाथों कराया। 

फिर कप्तान फाफ डू प्लेसी ने वेर्नोन फिलेंडर (26) के साथ छठे विकेट के लिए 43 रन की साझेदारी की और टीम को 200 रन के पार लगाया। इशांत शर्मा ने फिर फिलेंडर का कैच स्क्वायर लेग पर मुरली विजय के हाथों झिलवाकर टीम इंडिया को सफलता दिलाई। 

जल्द ही इशांत ने केशव महाराज (6) को पार्थिव पटेल के हाथों कैच आउट कराकर प्रोटियाज को सातवां झटका दिया। इसके बाद प्लेसी ने पुछल्ले बल्लेबाज कागिसो रबाडा (4) के साथ आठवें विकेट के लिए 30 रन की साझेदारी की। शमी ने रबाडा को दूसरी स्लिप में कोहली के हाथों कैच आउट कराकर इस साझेदारी को तोड़ा।

अगले ही ओवर में जसप्रीत बुमराह ने अपनी गेंद पर कैच लेकर डू प्लेसी की पारी का अंत किया। प्रोटियाज कप्तान ने 141 गेंदों में 4 चौको की मदद से 48 रन की उम्दा पारी खेली। फिर अश्विन ने लुंगी एनगिडी को मुरली विजय के हाथों कैच आउट कराकर अफ्रीकी पारी का अंत किया।

You May Also Like

English News