INDvsAUS: इंदौर में ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का किया फैसला…

ऑस्ट्रेलिया ने इंदौर के तीसरे वन डे में रविवार को टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया है। कंगारू टीम के ओपनर डेविड वार्नर और आरोन फिंच ने अपनी टीम को सधी शुरुआत दिलाई है। समाचार लिखे जाने तक ऑस्ट्रेलिया ने 9 ओवर में बिना विकेट गंवाए 43 रन बना लिए हैं। INDvsAUS: इंदौर में ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का किया फैसला...

INDVsAUS: पांच मैचों की सीरीज को सील कर वनडे की बादशाह बनेगी विराट ब्रिगेड

स्मिथ ने पहली बार इस सीरीज में टॉस जीता है। ऑस्‍ट्रेलिया की टीम में आरोन फिंच की वापसी हुई है। पीटर हैंड्सकोंब को मैथ्यू वेड की जगह दी गई है।  वहीं विराट कोहली ने कोलकाता की टीम को ही मैदान में उतारा है। 

विराट कोहली के नेतृत्व वाली टीम इंडिया के पास ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ इंदौर के होलकर स्टेडियम में जीत और रिकॉर्ड्स की हैट्रिक पूरी करने का शानदार मौका है। टीम इंडिया ने पांच मैचों की सीरीज के पहले दो वन-डे में कंगारुओं के हौसले पूरी तरह पस्त किए और क्रमशः 26 व 50 रन से जीत दर्ज की। भारतीय टीम रविवार को जीत की हैट्रिक लगाकर सीरीज में 3-0 की अजय बढ़त हासिल करने के इरादे से मैदान में उतरी है। इंदौर टीम इंडिया के लिए काफी लकी रहा है। 

इसके साथ ही मेजबान टीम के पास रिकॉर्ड्स की हैट्रिक लगाने का भी शानदार मौका है। टीम इंडिया के पास सबसे पहले किसी एक स्टेडियम पर लगातार पांच जीत दर्ज करने का मौका है। इससे पहले भारतीय टीम ने शारजाह, मीरपुर, दिल्ली और विशाखापट्टनम के स्टेडियम में अपने पहले चार-चार मुकाबले जीते हैं। अगर टीम इंडिया रविवार को मैच जीतने में कामयाब रही तो ये पहला मौका होगा जब टीम किसी स्टेडियम में अपने पहले पांच मैच जीतेगी।

 इसके अलावा टीम इंडिया ने वन-डे इतिहास में कभी भी ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ लगातार चार मैच नहीं जीते हैं। भारत का वन-डे में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सबसे लंबा जीतने का सिलसिला तीन मैचों का है। इस बार भी भारत लगातार तीन मैचों में (2016 में सिडनी में और अब दो मैच) जीत चुका है। टीम इंडिया के पास ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ होलकर में जीत का चौका लगाने का शानदार मौका है।

यही नहीं, टीम इंडिया ने कभी द्विपक्षीय वन-डे सीरीज में ऑस्ट्रेलिया को लगातार तीन मैच नहीं हराए हैं। मौजूदा सीरीज में टीम इंडिया ने लगातार दो मैच जीते हैं और उसके पास जीत की हैट्रिक लगाने का शानदार मौका है। 37 साल में ऐसा पहली बार होगा।

ऑस्ट्रेलियाई टीम अभी तक इंदौर में चार वन-डे मैच खेल चुकी है। ये चारों ही मैच नेहरू स्टेडियम में खेले गए थे। होलकर स्टेडियम में ऑस्ट्रेलियाई टीम अपना पहला वन-डे मैच खेल रही है। वहीं इंदौर में भारतीय टीम का रिकॉर्ड जबर्दस्त है। इंदौर के होलकर स्टेडियम में भारतीय टीम अभी तक खेले गए चारों मैच जीती है। भारत ने 2006 में 7 विकेट और 2008 में 54 रन से इंग्लैंड को मात दी। 

इसके बाद 2011 में भारत ने वेस्टइंडीज को 153 रन से हराया, जिसमें वीरेंदर सहवाग (219 रन) ने अपना पहला वन-डे दोहरा शतक ठोका था। भारत ने फिर यहां 2015 में दक्षिण अफ्रीका को 22 रन से हराया था। इस तरह से भारत का होलकर स्टेडियम में जीत का रिकॉर्ड सौ प्रतिशत है।

पिच क्यूरेटर समंदर सिंह चौहान ने जानकारी दी है कि होलकर स्टेडियम पर बल्लेबाजों को फायदा मिलेगा और रिस्ट स्पिनर्स भी यहां कमाल दिखा सकते हैं। टीम इंडिया के पास कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल के रूप में दो रिस्ट स्पिनर्स मौजूद हैं। ऐसे में मेजबान टीम का पलड़ा भारी रहना तय है।

वहीं ऑस्ट्रेलियाई टीम खेल के हर विभाग में टीम इंडिया से पिछड़ रही है। बल्लेबाजी में विशेषतौर पर वो काफी संघर्ष कर रही है। कोलकाता वन-डे में मेहमान टीम के खिलाड़ी फिटनेस को लेकर भी काफी परेशान रहे। 

टीम इंडिया: रोहित शर्मा, अजिंक्य रहाणे, विराट कोहली (कप्तान), मनीष पांडे, एमएस धोनी, केदार जाधव, हार्दिक पांड्या, कुलदीप यादव, युजवेंद्र चहल, भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमराह।

ऑस्ट्रेलिया:  आरोन फिंच, डेविड वॉर्नर, ट्रेविस हेड, स्टीव स्मिथ (कप्तान), ग्लेन मैक्सवेल, मार्कस स्टोइनिस, पीटर हैंड्सकोंब, केन रिचर्डसन, नाथन कोल्टर नाइल, पैट कमिंस, और एशटन आगर।

You May Also Like

English News